अमेठी में सुरेंद्र सिंह की हत्या, वजह में पुरानी रंजिश भी शामिल, स्मृति ने खाई कसम !

अमेठी को डराने की नीयत से सुरेंद्र सिंह की हत्या की गई है, ताकि अमेठी टूटे, अमेठी झुके, बीजेपी का 11 करोड़ का परिवार सुरेंद्र सिंह के परिवार के साथ है। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाई जाएगी, जिसने गोली चलाई और जिसने गोली चलाने का आदेश दिया, उसे फांसी के फंदे तक पहुंचाने के लिए जरूरत पड़ी तो सुप्रीम कोर्ट तक जाएंगे, मैंने सुरेंद्र सिंह जी के परिवार के आगे कसम खाई है। यह सांसद स्मृति ईरानी का बयान है।

उनके करीबी सहयोगी, बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह के कत्ल पर जिनकी 25 मई की रात करीब साढ़े 11 बजे कुछ हमलावरों ने उन्हें गोली मार दी। इलाज के लिए उन्हें लखनऊ ले गये, मगर वो बच न सके। 26 मई के दिन उनके अंतिम संस्कार के लिए सांसद स्मृति ने बरौलिया पहुंच कर अर्थी को कंधा भी दिया।
इसके बाद सुरेंद्र के परिवार से मिल कर दौरान उन्होंने ये बयान दिया जिसमें उन्होंने सीधे-सीधे किसी का नाम तो नहीं लिया, मगर अमेठी को डराने की बात जिस तरह कही उससे लगता है कि उनका इशारा राजनैतिक हत्या की तरफ हैं।
पुलिस ने जो रिपोर्ट दर्ज की है, उसमें सांसदी और ग्राम प्रधानी चुनाव की पुरानी रंजिश का जिक्र है। ये रिपोर्ट सुरेंद्र के बड़े भाई नरेंद्र बहादुर सिंह ने लिखवाई है। इसमें पांच लोगों को आरोपी बनाया है। शिकायत लिखवाने वालों ने आरोपियों को गोली मारकर भागते हुए देखने की बात दर्ज करवाई है।
पुलिस की तरफ से फिलहाल हत्या के पीछे की वजह साफ नहीं की गई है। राजनैतिक हत्या, पुरानी रंजिश या कुछ और, पुलिस फिलहाल तफ्तीश कर रही है और सात लोगों को हिरासत में ले चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *