औरंगाबाद हिंसा: सनसनीखेज खुलासा,दंगाइयों के बीच नजर आए सांसद और दंगाइयों का साथ देते पुलिसवाले

Aurangabad violence: Sensational disclosure, policemen accompanying MPs and rioters seen among rioters

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में 11 मई भड़के दंगे ने पूरे देश को हिला कर रख दिया था। अब इस दंगे को लेकर नया सनसनीखेज वीडियो सामने आया है। इस वीडियो ने भी सोशल मीडिया से लेकर हर जगह हलचल मचा दी है। वीडियो उस समय का है जब दंगाई नवाबपुरा में वाहनों और दुकानों में आग रहे थे। पुलिसवालों ने दंगाइयों को रोकने की कोई कोशिश नहीं की बल्कि उनके साथ खड़े दिए। वहीं,उपद्रव के दौरान का एक नया वीडियो सामने आया है, जिसमें क्षेत्र के शिवसेना सांसद चंद्रकांत खैरे खड़े नजर आ रहे हैं।

बता दे की महाराष्ट्र के औरंगाबाद में 11 मई को दंगा भड़का था।इस दंगे में एक नाबालिग और एक बुजुर्ग की जान चली गई। साथ ही 60 दुकानें जला दी गई जिससे व्यापारियों को करीब 100 करोड़ का नुकसान हुआ।अब इस दंगे से जुड़ा एक वीडियो सामने आया है जिसने पुलिस पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं।यह वीडियो 11 मई यानी उसी रात का है जब दंगे भड़के थे। नौ मिनट के इस वीडियो में पुलिस वाले दंगाइयों को सुरक्षा देते दिख रहे हैं। वीडियो उस समय का है जब दंगाई नवाबपुरा में वाहनों और दुकानों में आग रहे थे। पुलिसवालों ने दंगाइयों को रोकने की कोई कोशिश नहीं की बल्कि उनके साथ खड़े दिए।दंगों के समय किसी ने घर की खिड़की या बालकनी से 9 मिनट का वीडियो रिकॉर्ड किया जिसमें 10 पुलिसवाले दंगाइयों का साथ देते दिख रहे हैं। पुलिस के बड़े अधिकारियों ने वीडियो क्लिप देखने के बाद जांच के आदेश दे दिए हैं।गनीमत ये कि ये वीडियो वायरल नहीं हुआ क्योंकि शुक्रवार की रात को फैले दंगे के बाद इंटरनेट बंद किया हुआ है। फिलहाल पुलिस ने औरंगाबाद दंगा मामले में 2000 से ज्यादा लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़े :महाराष्ट्र में हिंसा, रात भर जलता रहा औरंगाबाद ,कई इलाकों में धारा 144 लागू ,2 की मौत -41 घायल

वही दूसरा वीडियोऔरंगाबाद के शागंज-चमन इलाके के इस दो मिनट 38 सेकेंड के वीडियो में सांसद चंद्रकांत खैरे दिखाई दे रहे हैं।बताया जा रहा है कि यह दंगे के अगले दिन शनिवार की सुबह का वीडियो है। चंद्रकांत खैरे के आस-पास पुलिस वाले भी हैं और दंगाई भी। चारों तरफ काफी अफरा-तफरी का माहौल है।वीडियो में दिख रहा है कि चंद्रकांत खैरे वहां मुकदर्शक बने खड़े हैं।इस वीडियो के सामने आने के बाद दंगों में उनकी भूमिका को भी लेकर सवाल उठ रहे हैं कि सांसद आखिर दंगों के दौरान वहां क्या कर रहे थे? या चंद्रकांत खैरे ने दंगाइयों को रोकने की अपील क्यों नहीं की!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *