स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल के लिए बैन, बॉल टेंपरिंग मामले में सुनाई गई सज़ा

Banned for a year on Steve Smith and David Warner

बॉल टेंपरिंग मामले में फंसे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने एक साल के लिए बैन कर दिया है। आपको बता दे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ और उपकप्तान डेविड वॉर्नर पर आज एक साल का बैन लगा दिया है। बेनक्राफ़्ट पर 9 महीने का बैन लगाया गया है। हालांकि इन खिलाड़ियों के वर्ल्ड कप खेलने पर खतरा नहीं है। क्योंकि यह टूर्नामेंट अगले साल 2019 में 30 मई से खेला जाएगा। जिससे पहले ये सभी अपने प्रतिबंध पूरे कर चुके होंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तीनों खिलाड़ियों को सजा के खिलाफ अपील करने के लिए एक हफ्ते का समय दिया जाएगा ।बताते चले की बॉल टेंपरिंग की घटना के कुछ ही घंटे बाद ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने सीए से स्टीव स्मिथ को कप्तानी से हटाने के लिए कहा था। बाद में स्टीव स्मिथ को ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम की कप्तानी छोड़नी पड़ी थी। उपकप्तान डेविड वॉर्नर को भी उनके पद से हाथ धोना पड़ा।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बैन के बाद दोनों खिलाड़ियों को आर्थिक तौर पर भी बड़ा झटका लगेगा। स्मिथ और वॉर्नर को करीब 20-20 करोड़ का नुकसान हो सकता है। हालांकि इसमें ब्रैंड्स और एडवर्टीसमेंट से होने वाली कमाई शामिल नहीं है। स्टीव स्मिथ ऑस्ट्रेलिया के सबसे महंगे खिलाड़ी हैं। उन्हें क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से करार के 10 लाख 50 हजार डॉलर मिलते हैं जबकि डेविड वॉर्नर को 8 लाख 10 हजार डॉलर मिलते हैं।

आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की कप्तानी संभालने वाले स्टीव स्मिथ और सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर अपने-अपने पद से इस्तीपा दे चुके हैं लेकिन इस दोनों खिलाड़ियों के आईपीएल में बौतर खिलाड़ी खेलने पर अभी बीसीसीसीआई का फैसला आना बाकी है। गौरतलब है कि स्टीव स्मिथ को राजस्थान रॉयल्स ने 12 करोड़ में रिटेन किया था। वहीं डेविड वॉर्नर को हैदराबाद की ने 12.5 करोड़ रुपए में रिटेन किया था। इंटरनेशनल क्रिकेट के साथ-साथ अगर इन दिनों खिलाड़ियों की आईपीएल और बिग बैश की कमाई को भी जोड़ दिया जाए तो इन्हें लगभग 20 करोड़ का नुकसान होगा।

ये है पूरा विवाद

केपटाउन में साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई ओपनर कैमरन बेनक्रॉफ्ट बॉल टेंपरिंग करते हुए पकड़े गए। बेनक्रॉफ्ट को मैच के दौरान अपने ट्राउजर से पीले रंग की चीज निकालते देखा गया। टीवी रीप्ले में देखा गया कि कैमरन बेनक्रॉफ्ट को गेंद के शेप को बिगाड़ने के लिए जेब से टेप जैसी किसी चीज का इस्तेमाल करते देखा गया, जिसे उन्होंने बाद में अपनी ट्राउजर में छिपाने की कोशिश की।टेप को सैंडपेपर में बदलकर इसका इस्तेमाल बेनक्रॉफ्ट ने गेंद को एक तरफ से खुरदरा करने के लिए किया था, ताकि गेंदबाजों को स्विंग मिले। इस घटना के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने बॉल टेंपरिंग की बात मानी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *