देहरादून : रायपुर में नाबालिग छात्रा का अपहरण कर पडोसी ने किया दुष्कर्म,गिरफ्तार

Dehradun: Arrested for raping a minor girl

राजधानी देहरादून के रायपुर थाना क्षेत्र से एक सनसनीखेज वारदात प्रकाश में आई है। यहां पहले नाबालिग छात्रा का उसके घर से अपहरण किया गया। उसके बाद किशोरी के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। पीड़िता के परिजनों ने आरोपी युवक दीपक के विरुद्ध तहरीर देकर पुलिस को घटना की जानकारी दी। जिसके बाद आज आरोपी ने गिरफ्तारी दे दी है। मामले की जांच जारी है।

दरअसल घटना रायपुर थाना क्षेत्र, नेहरूग्राम, दूल्हनी नदी किनारे बसी बस्ती की है। यहां एक नाबालिग छात्रा का उसके घर से पास में रह रहे युवक दीपक ने अपहरण कर दुष्कर्म किया। बता दें कि कुछ समय पूर्व पीड़िता के परिजनों ने पुलिस को बताया था कि उसकी बेटी अचानक लापता हो गई । परिजनों ने उसकी तलाश की थी। कोई सुराग नहीं लगने पर मामले की शिकायत पुलिस को दी गई थी।परिजनों ने उसके अपहरण का आरोप लगाया था। पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर युवक के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया था। जिसके बाद पीड़िता को बरामद कर लिया गया। पीड़िता ने पुलिस को बताया की उनके पड़ोस में रहने वाला दीपक उसके घर से नशीला पदार्थ सुंघाकर उसे अगवा कर ले गया था। पीड़िता ने बताया की युवक उसे डरा धमका कर पांच दिनों में से दो दी अपनी बुआ के घर ले गया। जहां उसके साथ उसने दुष्कर्म किया। जिसके बाद वह उसे केंट क्षेत्र में ले गया। जानकारी के अनुसार पुलिस को सूत्रों से युवक और किशोरी के केंट क्षेत्र के जंगल में होने की सूचना मिली, सूचना पर पुलिस ने मौके पर दबिश की। हालांकि आरोपी युवक को पुलिस के आने की सूचना प्राप्त हो गई थी जिससे वह पीड़िता को छोड़ कर फरार हो गया।

पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल परीक्षण करवाने के बाद आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का भी मामला दर्ज कर लिया था। बता दे की छात्रा का मेडिकल परीक्षण करवाने के बाद मजिस्ट्रेट के सामने बयान भी दर्ज करवाए। जिसके बाद आज आरोपी ने सरेंडर कर दिया है।बताया जा रहा है कि घटना में पीड़िता की सहेली भी शामिल है। युवक ने छात्रा की सहेली की मदद से ही पीड़िता का अपहरण किया था। युवक के केंट क्षेत्र में छुपे होने की जानकारी भी पुलिस द्वारा किशोरी की सहेली से कड़ाई से पूछताछ करने पर ही प्राप्त हुई थी। जिसके बाद पीड़िता को बरामद किया जा सका।  मामले की पूर्ण जांच की जा रही है।

यह भी पढ़े :एक तरफा प्यार में हैवानियत की हदें पार , नाबालिक लड़की को घर में घुस कर जिंदा जलाया, तनाव

इस मामले में सामाजिक संगठन “नवचेतना समिति” ने आगे आकर पीड़ित परिवार की हर तरह से मदद की। चूँकि वह एक गरीब परिवार है। इसलिए उसे सामाजिक अवहेलना का दंश झेलना पड़ रहा है। संगठन की संयोजिका दीप्ति रावत ने बताया की इस प्रकार की महिला विरोधी घटना के बाद भी हमारी प्रशासनिक व्यवस्था बहुत ही संवेदनहीन है। दीप्ति रावत ने आरोपी के किसी बड़े गिरोह से तार जुड़े होने की आशंका जताई है। उन्होंने संदेह जताया है की मामले में युवक अकेला ही आरोपी नहीं है।कई अन्य लोग भी उसके साथ जुड़े हो सकते है। उन्होंने कहा की वह पीड़िता के साथ है और पीड़िता को न्याय दिलाने में हर सम्भव प्रयास करेगी तथा आरोपी को कड़ी से कड़ी सज़ा दिलाने की कोशिश करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *