देहरादूनः फेसबुक मे दोस्ती के नाम पर 52 लाख की ठगी का आरोपी गिरफ्तार, ऐसे करता था धोखाधड़ी

देहरादूनः फेसबुक मे दोस्ती के नाम पर 52 लाख की ठगी का आरोपी गिरफ्तार, ऐसे करता था धोखाधड़ी

बढ़ते साईबर अपराधों के परिप्रेक्ष्य में साईबर अपराधी आम जनता की गढ़ी कमाई हेतु अपराध के नये- नये तरीके अपनाकर धोखा धड़ी कर रहे हैं। वर्तमान में एक नये प्रकार के अपराध के चलन में साईबर अपराधियों द्वारा फेसबुक मे दोस्ती कर व्यापार मे भागीदारी/डॉलर आदि का लालच देकर आम जनता से धोखाधड़ी की जा रही है।

देहरादून स्थित साईबर थाने में पजींकृत मु0अ0स0 02/18 धारा 420,120 बी भादवी व 66 आईटी एक्ट जिसमें एक प्रकरण में फेसबुक मे दोस्ती कर डॉलर का लालच देने के नाम पर अपराधियों द्वारा विभिन्न बैंक खातों में धोखाधड़ी कर लगभग रु0 52,00,000/- जमा करवाये गये थे, जिसके सम्बन्ध में पीडित ने शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके आधार पर  रिधिम अग्रवाल, पुलिस उपमहानिरीक्षक, एस0टी0एफ0 के विशेष निर्देशन एवं कैलाश पंवार, पुलिस उपाधीक्षक एसटीएफ के निकट पर्यवेक्षण मे इस प्रकरण को थाना साईबर क्राईम को सौंपते हुये अपराध का टीम गठीत की थी। जांच के दौरान बैंक खातो के स्टेटमेन्ट एवं आधुनिक तकनीको के माध्यम से अभियुक्तो का पता लगाया गया। जिसमे जानकारी मिली की उक्त प्रकार के साईबर अपराध में नाईजीरियन व्यक्ति शामिल है जो कि मणिपुर, अरुणांचल प्रदेश, दिल्ली,एनसीआर, उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदो में रहकर इस प्रकार के अपराधों को कर रहे है ।

मामले में पुलिस टीम को आरोपियों की तलाश करने के लिए मणिपुर, अरुणांचल प्रदेश, दिल्ली,एनसीआर, उत्तर प्रदेश भेजा गया । जिसके बाद पुलिस टीम द्वारा आरोपियों को चिन्हित कर- फखरुद्दीन उर्फ बग्धा पुत्र स्व0 सुलेमान निवासी यासीन नगर मातादीन जंगल पो0 पादरी बाजार गोरखपुर उत्तर प्रदेश को शाहपुर गोरखपुर उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में यह जानकारी प्राप्त हुयी की गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा विभिन्न बैको में खाते खुलवाकर उन खातो के एटीएम , पासबुक नाईजिरयन को उपलब्ध करायी जाती है ,गिरफ्तार किए गए आरोपी से मिली जानकारी के आधार पर अन्य अभियुक्तो की तलाश की जा रही है ।

यह भी पढ़ेंः नैनीताल में नशेड़ियों ने बहनों के साथ की दुष्‍कर्म की कोशिश, रेस्‍टोरेंट में जमकर की तोड़फोड़, हड़कंप

यह है अपराध का तरिका 

बग्धा उर्फ फखरुद्दीन पुत्र स्व0 सुलेमान निवासी यासीन नगर मातादीन जंगल पो0 पादरी बाजार गोरखपुर उत्तर प्रदेश ।
अपराध का तरीकाः-गिरफ्तार अभियुक्त द्वारा विभिन्न बैको में खाते खुलवाकर उक्त खातो के एटीएम व पासबुक आदि नाईजिरयन को उपलब्ध कराते हुये देश के विभिन्न राज्यो में आम जनता से फेसबुक पर दोस्ती कर लालच देकर उनसे उक्त खातो में लाटरी/बीमा/डांलर आदि भेजने के नाम पर धनराशि जमा कराकर धोखाधडी की जाती है । तथा उसके एवज में नाईजिरियन से कमीशन लिया जाता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *