उत्तराखंड BJP विधायक से परेशान होकर साले ने की परिवार संग इच्छामृत्युं की मांग ,पढ़े पूरी खबर

Disturbed by the Uttarakhand BJP legislator, Salai's family demanded euthanasia,

प्रदेश के हरिद्वार जिले से सनसनीखेज मामला सामने आया है यहां लक्सर के स्थानीय बीजेपी विधायक संजय गुप्ता के रिश्ते के साले ने अपने विधायक जीजा की हरकतों से परेशान होकर सोशल मीडिया पर पूरे परिवार के साथ आत्महत्या करने की चेतावनी वाली पोस्ट डालकर खलबली मचा दी है। बता दे की सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने वाले युवक की पत्नी ने इस संबंध में भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को पत्र भेजकर तत्काल हस्तक्षेप करने की मांग की है।

दरअसल कुछ दिन पूर्व अपने ‘झोंटा बिरयानी’ वाले बयान से विवादों में आए लक्सर विधायक संजय गुप्ता को लेकर अब एक नया विवाद खड़ा हो गया है। ससुराल अकोढ़ा खुर्द गांव निवासी रिश्ते में उनके साले दीपक गुप्ता का विधायक संजय गुप्ता के साथ कुछ बातों को लेकर खींचतान चली आ रही है। इसी को लेकर बीते रोज जीजा साले के बीच चली आ रही अंतर्कलह सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों तक पहुंच गई, तो लक्सर क्षेत्र की राजनीति गरमा गई। दीपक गुप्ता ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डालकर लिखा है कि विधायक संजय गुप्ता अपनी राजनीतिक पहुंच के चलते सरकारी अधिकारियों के ऊपर दबाव बनाकर उनके ठेकेदारी के कार्य को प्रभावित कर रहे थे। उन्होंने विधायक संजय गुप्ता पर पैसे मांगने और न देने पर परिवार को परेशान करने का आरोप लगाया है।
सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस पोस्ट में यह भी लिखा है कि विधायक के हस्तक्षेप के चलते उनका सरकारी विभागों में लाखों रुपया फंसा पड़ा है। दीपक ने पोस्ट में चेतावनी दी है कि अगर विधायक ने उनके परिवार को परेशान करना बंद नहीं किया तो वह पूरे परिवार के साथ आत्महत्या करने को मजबूर होंगे, जिसकी जिम्मेदारी विधायक संजय गुप्ता की होगी।

यह भी पढ़ेंः भारत बंद: प्रदर्शन के दौरान उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत गिरफ्तार

इतना ही नहीं दीपक गुप्ता की पत्नी रश्मि गुप्ता ने इस बाबत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेश महामंत्री संगठन के अलावा मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह को पत्र भेजकर मामले में तत्काल हस्तक्षेप करने मांग की है। वहीं, विधायक संजय गुप्ता ने युवक के परेशान करने के आरोपों को निराधार बताते हुए मुकदमा दर्ज कराने की बात कही है। उन्होंने कहा कि दीपक पिछले कुछ दिनों से सरकारी विभागों में मेरे नाम का दबदबा बनाकर कार्य कर रहा था। मैंने सरकारी अधिकारियों को किसी के भी दबाव में आकर काम न करने की सख्त हिदायत दी थी। मेरे ऊपर लगाए आरोप पूरी तरह से गलत और निराधार हैं। इस मामले में मैं दीपक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराऊंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *