उत्तराखंडः डबल मर्डर केस का भंडाफोड़, ससुर ने की बहू से रेप के बाद पत्नि और बहू की निर्मम हत्या

ITBP Serviceman Wife and mother-in-law beaten,

उत्तराखंड पुलिस ने प्रदेश को शर्मसार करती दिल दहला देने वाली घटना का खुलासा किया है। दरअसल किच्छा नगर में हुए डबल मर्डर केस का भंडाफोड़ कर दिया है। यहां एक ससुर ने बहू को हवस का शिकार बना उसकी हत्या कर दी। जब पत्नी ने देखा को आरोपी ने उसे भी मार डाला। पुलिस और एसओजी की टीम ने आरोपी को रुद्रपुर से गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

बता दें की  किच्छा निवासी मनजीत सिंह तीन दिन पहले वैष्णो देवी के दर्शन करने गया था। घर में उसके माता- पिता और पत्नी रह रहे थे। गुरूवार शाम चार बजे पिता अवतार सिंह घर में ताला लगाने के बाद चाबी पड़ोसियों को देकर कहीं चले गए। और उसी रात मनजीत ने करीब दस बजे घर पर फोन किया लेकिन मां और पत्नी में से किसी ने भी उसका फोन नहीं उठाया। तब उसने पड़ोसियों को फोन कर घर पर बात कराने को कहा। उसके कहने पर पड़ोसियों ने घर खोलकर देखा तो भीतर मां चरनजीत कौर और पत्नी मनदीप कौर मृत पड़े मिले। मामले में पहले ही दिन से सुई अवतार पर ही घूम रही थी। इसके चलते चश्मदीद गवाह न होने के कारण पुलिस ने वैज्ञानिक साक्ष्य भी एकत्र करवाए थे। पोस्टमार्टम के दौरान मृतका के साथ दुष्कर्म की आशंका पर पुलिस ने डीएनए लिया था, जो उसे सजा दिलाने में अहम भूमिका निभा सकता है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः वैष्णा देवी के दर्शन पर गया था युवक, घर में हो गई मां और पत्नी की हत्या, पिता भी लापता

पुलिस के अनुसार आरोपित अवतार सिंह पुत्र साधू सिंह की नीयत अपने सतौले बेटे और भतीजे की पत्नी पर खराब हो गई थी। घटना के दिन जब वह शाम को घर पहुंचा तो बहू को अकेला देख उसे अपनी हवस का शिकार बनाने का प्रयास किया। बहू ने जब उसका विरोध किया तो आरोपी ने उसका गला दबा दिया। और अर्द्धचेतना अवस्था में बहू से दुष्कर्म के बाद पास ही पड़ी प्रेस की तार से गला घोंट बहु की हत्या कर दी। उसी दौरान घर पहुंची पत्नी के चिल्लाने पर भांडा फूटने के डर से आरोपी ने पत्नी की भी हत्या कर दी। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने वह इसके बाद जयपुर और भरतपुर गया। इतने दिन वहीं बस अड्डे पर रहा। इसके बाद वह जब रुद्रपुर आया तो उसे पुलिस ने पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर उसकी पत्नी के एक जोड़ी कुंडल और बहू का मंगलसूत्र बरामद कर लिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *