बिहार : बारिश बनी आफत, बाढ़ के पानी से डूबने व घरों के गिरने से सात की मौत

उत्तर बिहार में लगातार हो रही भारी बारिश से जनजीवन बेहाल हो गया है । नदियों में उफान से निचले इलाके में बाढ़ का पानी घुस गया है। बारिश के दौरान घर गिरने और पानी भरे गड्ढे में डूबने से सात लोगों की मौत हो गई। तीन लोग जख्मी हो गए। सड़कों पर बाढ़ का पानी चढ़ने से और कई पुलिया ध्वस्त होने से आवागमन ठप हो गया। सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर और रक्सौल-बैरगनिया रेलखंड पर ट्रैक धंसने से ट्रेनों का परिचालन बाधित हो गया है।

इस खबर को पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

करोड़ों के किट्टी प्रकरण में दंपति गिरफ्तार    https://www.uttaravani.com/couple-arrested-in-kitti-episode/

मधुबनी जिले में कमला नदी जयनगर और झंझारपुर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। कोसी के जलस्तर में भी वृद्धि जारी है। दोनों तटबंधों के बीच बसे कई गांवों में पानी घुस गया है। इससे लोगों की परेशानी बढ़ गई है। समस्तीपुर के मोहनपुर में गंगा के जलस्तर में लगातार वृद्धि जारी है। सीतामढ़ी जिले में बागमती और अधवारा समूह की नदियों के जलस्तर में वृद्धि से बाढ़ का संकट गहराने लगा है।

पश्चिम चंपारण में गंडक का जलस्तर तेजी से बढ़ने के कारण हाईअलर्ट पर रखा गया है। गंडक के पार के चार प्रखंडों के आधा दर्जन गांवों का बगहा अनुमंडल से संपर्क भंग हो गया। मुख्य सड़क पर नदियों का पानी फैल चुका है। इससे आवागमन बंद है। विद्यालयों में अघोषित छुट्टी कर दी गई है।

मधुबनी प्रखंड से सटे यूपी-बिहार सीमा पर बांसी पुल का एप्रोच धंस गया है। पंडई नदी ने विकराल रूप धारण कर लिया है। पूर्वी चंपारण में बागमती, लालबकेया, गंडक व सिकरहना समेत अन्य छोटी नदियां उफान पर हैं। यहां बारिश के दौरान घर गिरने और पानी भरे गड्ढ़े में डूबने से चार लोगों की मौत हो गई। तुरकौलिया प्रखंड कार्यालय के आवासीय भवन के एक हिस्से का प्लास्टर गिरने से दो होमगार्ड जवान घायल हो गए।

इस खबर को पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

करोड़ों के किट्टी प्रकरण में दंपति गिरफ्तार    https://www.uttaravani.com/couple-arrested-in-kitti-episode/

रेन कट के कारण सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर रेलखंड के परमजीवर-ताराजीवर और जुब्बा सहनी के पास रेलवे ट्रैक पर ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया है। रक्सौल-बैरगनिया के बीच चैनपुर स्टेशन के पास पटरी पर रेनकट के चलते कई ट्रेनों का परिचालन रद कर दिया गया है। हालांकि, यहां रेलवे की टीम ने मरम्मत कर ली है।

परिचालन शुरू करने की कोशिश जारी है। परसौनी प्रखंड के बेनीपुर में छत और दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई। शिवहर का पूर्वी चंपारण और सीतामढ़ी से सड़क संपर्क बाधित रहा। दरभंगा जिले में कमला बलान नदी का जलस्तर बढ़ने लगा है। जिले के कई गांवों और खेतों में बाढ़ का पानी भर गया है। मुजफ्फरपुर बागमती में उफान से कटरा और प्रखंड के कई गांवों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *