‘हेमकुंड साहिब’ तक पहुंचने के लिये बनेगी 200 मीटर लंबी टनल !

 सिखों के प्रसिद्ध तीर्थ हेमकुंड साहिब जाने के लिए इस बार बर्फ को काटकर 200 मीटर लंबी टनल बनाई जाएगी। हेमकुंड के रास्ते से बर्फ हटाने में जुटे सेना के जवान यह टनल बनाएंगे। हालांकि बर्फ पिघलने के बाद यात्रियों को टनल से नहीं गुजरना होगा।

गोविंदघाट गुरुद्वारे के प्रबंधक सरदार सेवा सिंह ने बताया कि अटलाकोटी से हेमकुंड तक का तीन किमी का रास्ता बर्फ से ढका है। गुरुद्वारा परिसर के आसपास दस फीट बर्फ जमा है। इसलिए यात्रियों को गुरुद्वारा परिसर तक लाने के लिए 200 मीटर लंबी और पांच फीट चैड़ी टनल बनाने का निर्णय लिया गया है। सेवा सिंह ने बताया कि टनल से गुजरने की स्थिति एक जून को कपाट खुलने के कुछ दिन ही तक रहेगा। बर्फ पिघने पर सामान्य दिनों की तरह यात्री गुरुद्वारे तक जा सकेंगे।

बदरीनाथ धाम पहुंचे 45 हजार तीर्थ यात्री !

हेमकुंड मार्ग से बर्फ हटाकर पगडंडी बनाने के काम में सेना की इंजीनियरिंग कोर को 40 जवान जुटे हुए हैं। इस बार शीतकाल में हेमकुंड साहब, लक्ष्मण मंदिर परिसर में 16 फीट तक बर्फ गिरी। अभी भी मार्ग पर भारी मात्रा में बर्फ है। मौसम बदलने के कारण क्षेत्र में हो रही बर्फबारी से जवानों के बर्फ हटाने के काम में आधा पैदा हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *