उड़ान भरते ही क्रैश हुआ इंडोनेशियाई विमान, 189 यात्रियों सहित समुद्र में गिरा, पायलट भारतीय

Indian plane crashes as it flies, 189 passengers fall into sea, pilot Indians

इंडोनेशिया के जकार्ता से पांकल पिनांग शहर जा रहा एक यात्री विमान सोमवार सुबह उड़ान भरने के 13 मिनट बाद समुद्र में क्रैश हो गया। इसमें 189 लोग सवार थे। विमान को भारतीय पायलट उड़ा रहा था। इनमें तीन बच्चों समेत 181 यात्री, दो पायलट और छह अन्य क्रू मेंबर्स थे। इंडोनेशिया के अधिकारियों ने राहत और बचाव के लिए ऑपरेशन शुरू कर दिया है। हालांकि, मृतकों के आंकड़े की पुष्टि नहीं हो पाई है।

बताया जा रहा है की विमान जेटी-610 जकार्ता से पंगकल पिनॉन्ग जा रहा था। राष्ट्रीय तलाशी एवं बचाव एजेंसी के प्रवक्ता यूसुफ लतीफ ने विमान क्रैश होने की पुष्टि की है। चैनल न्यूज एशिया के अनुसार लॉयन एयर बोइंग 737 यात्री विमान में क्रू मेंबर और यात्रियों को मिलाकर कुल 188 लोग सवार थे। इंडोनेशिया के आपदा प्रबंधन बोर्ड के प्रमुख सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने ट्वीट कर कहा, ‘कारावांग के समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हुए लॉयन एयर जेटी610 विमान के कई टुकड़े बरामद किए गए।’ रिपोर्ट्स के मुताबिक, लॉयन एयर विमान ने सुबह 6.20 बजे जकार्ता से उड़ान भरी थी और यह लगभग एक घंटे में पंगकल पिनांग पहुंचने वाला था लेकिन विमान का सुबह 6.33 बजे संपर्क टूट गया।यह बोइंग 737 मैक्स-8 की पहली दुर्घटना बताई जा रही है। 2016 तक यह मॉडल सिर्फ कमर्शियल कामों के लिए इस्तेमाल किया जाता था। इसे लॉयन एयर को अगस्त में ही डिलीवर किया गया था। विमान के पायलट भी काफी अनुभवी थे। दोनों को कुल 11 हजार घंटे फ्लाइट उड़ाने का अनुभव था।

यह भी पढ़े : भारतीय वायुसेना का MiG 27 क्रैश, आसमान में विमान बना आग का गोला
विमान में 188 लोग थे सवार

विमान में कुल 188 लोग सवार थे। इनमें 178 वयस्क, 1 बच्चा, 2 नवजात, 2 पायलट और 5 फ्लाइट अटेंडेंट शामिल हैं। यात्रियों के बारे में अभी तक कोई सूचना नहीं मिली है। टीमें सर्च ऑपरेशन में जुटी हुई हैं। इंडोनेशिया के प्रशासन के मुताबिक लॉयन एयर जेटी 610 से संपर्क टूट गया है और विमान का संपर्क जिस समय टूटा उस दौरान अचानक उसकी ऊंचाई में करीब 2000 फीट की कमी आई। विमान लापता होने के बाद से ही सर्च अभियान जारी है, समुद्र के कुछ हिस्से में अभी प्लेन की कुर्सियां व अन्य हिस्से मिलना भी शुरू हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *