चेन्नई और मुंबई – कौन लेगा लीड ?

हैदराबाद में आईपीएल 12 का आखिरी मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स का मुंबई इंडियंस से होगा। ऐसे में इस सीजन तीन बार मुंबई के हाथो हार झेल चुकी चेन्नई फाइनल में जीतना चाहेगी। दोनों टीमें अभी तक आईपीएल के खिताब पर तीन बार कब्जा कर चुकी हैं। जिसमे चैथी बार जीतकर दोनों एक दूसरे से आगे निकलना चाहेंगी। वहीं, दोनों टीमें अभी तक तीन बार आईपीएल के फाइनल में भीड़ चुकी हैं। जिसमें चेन्नई एक बार तो मुंबई ने दो बार जीत हासिल की है।

ऐसे में आईपीएल के फाइनल मुकाबले से पहले एक बड़ा ही दिलचस्प आकड़ा निकलकर सामने आया है। जिसमें फाइनल कौन सी टीम जीतेगी इसका फैसला आधे घंटे पहले ही हो जाता है। जी हाँ मैच से ठीक आधे घंटे पहले होने वाले टॉस के समय ही ये निर्धारित हो जाता है कि फाइनल का बॉस कौन बनेगा। मतलब ये है कि अभी तक आकड़े उसी के पक्ष में रहे हैं जिस टीम ने टॉस जीता है वही टीम आईपीएल के फाइनल का बॉस बनी है। और इस मामले में चेन्नई के थाला व किस्मत के धनी कप्तान महेंद्र सिंह धोनी काफी लकी रहे हैं।

महेंद्र सिंह धोनी मौजूदा सीजन में टॉस जीतने के मामले में भाग्यशाली रहे हैं। धोनी ने मौजूदा सीजन में 14 मैचों में चेन्नई की कमान संभाली है और इस दौरान वो 10 बार टॉस जीतने में सफल रहे हैं। वहीं यदि चेन्नई की बात की जाए तो सीएसके ने अब तक खेले 16 मैचों में से 12 में टॉस जीता है। यदि रविवार को मुंबई के खिलाफ भी चेन्नई का टॉस जीतने का सिलसिला जारी रहा तो वो चैथी बार खिताब अपने नाम कर सकती है।

बता दें की पिछले साल आईपीएल 2018 के फाइनल मुकाबले में भी चेन्नई ने टॉस जीता था, जिसके बाद उसने सनराइजर्स हैदराबाद को हराकर खिताब पर तीसरी बार कब्जा किया था। ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा की अगर चेन्नई के कप्तान धोनी आज भी टॉस जीतने में कामयाब होते हैं तो मुंबई के लिए मैच शुरू होने से पहले ही हार का संकेत नजर आ जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *