उत्तराखंड- काशीपुर में हैंड ग्रेनेड के साथ पकड़ा युवक

दो जिंदा हैंड ग्रेनेड के साथ पुलिस ने युवक को पकडा यह युवक गांव को ग्रेनेड से उड़ाने की धमकी दे रहा था। मौके पर पहुंच कर बम निरोधक दस्ते ने जांच करके ये ग्रेनेड जमीन में दबा दिए।
पुलिस को सूचना मिली कि एक युवक हाथ में दो ग्रेनेड लेकर लोगों को धमका कर गांव को ग्रेनेड से उड़ाने की धमकी दे रहा है। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस को देखकर युवक ने भागने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उसे दबोच लिया। उसके कब्जे से दो जिंदा हैंड ग्रेनेड बरामद हुए, इस युवक ने अपना नाम सरजीत सिंह पुत्र जरनैल सिंह निवासी रामपुर बताया। उसने बताया कि रामपुर में ही किसी व्यक्ति ने ग्रेनेड उसे दिए थे। जिसे वह काशीपुर लेकर आया। बम निरोधक दस्ते के एसआई विजय शंकर ने ग्रेनेडों को जिंदा बताया, जन्हें मिट्टी में दबा दिया गया।
बताया गया कि सरजीत सिंह के पिता जरनैल कई साल पहले आपसी विवाद के चलते काशीपुर के मेहताववन छोड़कर यूपी के ग्राम पईपुरा, थाना बिलासपुर जिला रामपुर में आकर बस गये थे। 27 मई को मेहताववन मे चाचा महेंद्र सिंह के यहां जागरण के चलते सरजीत अपने भाई गुरमीत के साथ यहां आया हुआ था। भाई गुरमीत 28 मई को वापस चला गया था। जबकि सरजीत पत्नी के आपरेशन के चलते यहां रुक गया था।
पुलिस अधिकारियों के अनुसार बरामद ग्रेनेड एचई-36 है। जो अधिकांश युद्ध और नक्सलियों के पास पाये जाते हैं। सरजीत के पास ये ग्रेनेड कहां से आए और ग्रेनेड साथ रखने का उसका क्या इरादा था, इसकी जांच की जा रही है। वहीं सरजीत बार-बार पुलिस को गुमराह करता रहा। सरजीत पहले ग्रेनेडों को कोसी नदी के किनारे खेत में पड़े होने की बात करता रहा। बाद में उसने बताया कि ग्रेनेड उसे रामपुर में किसी व्यक्ति ने दिए। जिसे वह नही जानता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *