वेनेजुएला में महंगाई से मचा हाहाकार, 6000 रु.Kg लहसुन और 7000 रु. Kg मिल रही शकरकंद, सड़कों पर लोग

Major inflation in Venezuela 6000 for KG garlic and Rs 7000 for sweet on the streets

वेनेजुएला में इन दिनों सरकार के खिलाफ भारी प्रदर्शन चल रहा है। हालात लगातार बद से बदतर होते जा रहे हैं। वर्तमान में वहां पर निकोलस मादुरो और जुआन गुएडो के बीच जबरदस्‍त खींचतान चल रही है। हालात की बदहाली का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वहां की अर्थव्‍यवस्‍था लगातार गिर रही है । वस्तुओं की कीमत आसमान छू रही है।

वेनेजुएला में व्‍याप्‍त अराजकता के बीच वहां की अर्थव्‍यवस्‍था लगातार गिर रही है। आलम ये है कि वहां पर लोगों को खाने के भी लाले पड़ रहे हैं। तेल पर टिकी इस देश की अर्थव्‍यवस्‍था का हाल पिछले काफी समय से खराब चल रहा है। वर्तमान में यहां के एक हजार वेनेजुएला बोलवियर की कीमत यदि ब्रिटेन के पाउंड से आंकी जाए तो यह महज 76 पाउंड ही रह गई है। वहीं यूरो में इसकी कीमत 8888, आस्‍ट्रेलियन डॉलर में 141 और अमेरिकी डॉलर में इसकी कीमत महज 100 डॉलर है। यहां के बिगड़ते मौजूदा हालात का अंदाजा आप इस बात से भी लगा सकते हैं कि साढ़े पांच हजार रुपये में एक किलो लहसुन, सात हजार रुपये किलो शकरकंद मिल रही है। ऐसा ही हाल दूसरी खाने की चीजों का भी है। सभी की कीमत आसमान छू रही हैं।बुधवार को हज़ारों लोगों की तादाद में वेनेजुएला के लोगों ने रैली निकाली जिसका नेतृत्व विपक्षी नेता ख़ुआन गोइदो ने किया। उन्होंने इस रैली में कहा कि ये विरोध प्रदर्शन तब तक जारी रहेंगे, जब तक वेनेजुएला आज़ाद नहीं हो जाता।

यह भी पढ़ेंः EVM HACKING; अमेरिकी एक्सपर्ट सैयद शुजा के दावों से आया भूचाल, EC ने दर्ज कराई FIR

आपको बता दें कि गुएडो ने यहां पर खुद को राष्‍ट्रपति घोषित कर सेना से मादुरो का हुक्‍म मानने से इंकार करने की अपील की है। यहां के बिगड़े हालात का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता हैं कि राजधानी में जगह-जगह राष्‍ट्रपति मादुरो के खिलाफ लोग लामबंद होकर सड़क पर उतर रहे हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान इसको लेकर हुई झड़पों में 13 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में उभरे राजनीतिक संकट में अमेरिका ने वेनेजुएला के अंतरिम राष्ट्रपति के रूप में विपक्षी नेता जुआन गुएडो को मान्यता दी, जिसके बाद मादुरो ने अमेरिका से सभी संबंध तोड़ लिए हैं। उन्‍होंने अमेरिकी राजदूत को देश छोड़ने के लिए 72 घंटे का वक्‍त भी दिया है। इसके अलावा सात दक्षिण अमेरिकी देश-ब्राजील, कोलंबिया, चिली, पेरू, इक्वेडोर, अर्जेंटीना और पराग्वे ने भी जुआन को अंतरिम राष्ट्रपति माना है। वहीं कनाडा ने भी उन्‍हें ही समर्थन देने का एलान कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *