दून स्‍कूल में पढ़े मांस कारोबारी मोइन क़ुरैशी ने इस तरह ली तीन CBI डायरेक्टर्स की बलि, आया भूचाल

Moin Qureshi, who was studied in Doon School, was killed by the CBI officers

देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई में इस वक्त घमासान मचा हुआ है। एजेंसी के टॉप दो अफसरों में मची इस खींचतान के बाद एजेंसी के डायरेक्टर आलोक वर्मा और राकेश अस्थाना, दोनों को ही छुट्टी पर भेज दिया गया है। खास बात यह है कि विवाद के केंद्र में एक बार फिर दून स्‍कूल के पूर्व छात्र मोइन कुरैशी का नाम सामने आया है, जो दो अन्य सीबीआई चीफ्स एपी सिंह और रंजीत सिन्हा के डाउनफॉल के लिए भी जिम्मेदार है। ऐसे में यह जानना दिलचस्प है कि तीन सीबीआई चीफ्स की छवि धूमिल करने और सीबीआई में भूचाल लाने के पीछे क्या मामला है। और मोईन कुरैशी कौन है। आइये हम आपको पूरा मामला बताते है।
दून स्कूल और सेंट स्टीफेंस से की पढाई
सीबीआई में पिछले चार वर्षों से ‘भूचाल’ लाने वाले मीट कारोबारी मोइन अख्तर कुरैशी उत्तर प्रदेश के कानपुर से ताल्लुक रखता है। मोइन कुरैशी की इंटर तक की शिक्षा देश के जानेमाने देहरादून के दून स्कूल में हुई। उच्‍च शिक्षा के लिए वह दिल्‍ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज में दाखिला लिया।।उसने 1993 में रामपुर में एक छोटा सा बूचड़खाना खोला था और जल्द ही वह देश का सबसे बड़ा मांस कारोबारी बन बैठा और अकूत संपदा का मालिक हो गया। क़ुरैशी ने करीब दो दर्जन नई कंपनियां खोलीं। इसमें एक कंस्ट्रक्शन कंपनी भी है। उसने अपनी बेटी के लिए फ़ैशन कंपनी भी खोली। उस पर इस बात की भी जांच चल रही है कि कथित तौर पर उन्होंने विदेशों में 200 करोड़ से अधिक छुपा रखे हैं और वो मुल्क के बड़े टैक्स चुरानेवालों में से एक हैं।पिछले 25 वर्षों में उसने निर्माण और फैशन समेत कई सेक्टरों में 25 से ज्यादा कंपनियां खड़ी कर लीं। उसके खिलाफ कर चोरी, मनी लॉन्ड्रिंग और भ्रष्टाचार में शामिल होने के कई आरोप लगे और जांच हुई। इसके साथ-साथ उसने हवाला के जरिए बड़ा लेनदेन किया। उस पर सीबीआई अफसरों, राजनेताओं समेत कई अधिकारियों को रिश्वत देने के भी आरोप लगे।
पाकिस्तानी अदाकारा है मोईन की बीवी
बता दे की मोइन कुरैशी की बीवी नसरीन पाकिस्तानी मूल की हैं। शादी से पहले नसरीन पाकिस्तान की अदाकारा थीं। कई छोटी फिल्मों और ड्रामा में रोल किए। फिर बाद में भारतीय मीट कारोबारी मोइन कुरैशी के संपर्क में आईं तो शादी हुई। पेशे से फैशन डिजाइनर बेटी पर्निया कुरैशी का जन्म भी कराची में ही हुआ था। बीवी नसरीन अपनी लक्जरी लाइफ स्टाइल के लिए भी जानीं जातीं हैं। जब मोइन कुरैशी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी ने जांच शुरू की थी, तब तैयार हुई चार्जशीट में बीवी नसरीन कुरैशी की लक्जरी लाइफस्टाइल का भी जिक्र था।
यह भी पढ़े :  सीबीआई में घमासान ;DSP देवेंद्र कुमार गिरफ्तार, सस्पेंड हो सकते हैं राकेश अस्थाना
सीबीआई की नींद हराम
अपने कनेक्शन से सीबीआई के दो पूर्व डायरेक्टर एपी सिंह और रंजीत सिन्हा की नींद हराम कर देने वाले इस मीट कारोबारी की वजह से अब मौजूदा डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना बुरी तरह उलझ चुके हैं। मोइन कुरैशी के कई किस्से हैं। सीबीआई के इतिहास में फिलवक्त चल रहे सबसे बड़े विवाद के केंद्रबिंदु में मौजूद इसे बड़े मांस कारोबारी के बारे में ईडी की चार्जशीट में चौंकाने वाले तथ्य हैं। यह चार्जशीट पूर्व में अदालत में न केवल पेश हो चुकी है, बल्कि इसी आधार पर सीबीआई 2017 में अपने ही निदेशकों रंजीत सिन्हा और एपी सिंह के खिलाफ केस भी दर्ज कर चुकी है।
मोइन और उसकी बीवी के 70 से ज्यादा मुलाकाते चर्चा का विषय
तत्कालीन सीबीआई डायरेक्टर रंजीत सिन्हा के घर से बरामद विजिटर डायरी से मोइन और उसकी बीवी के 70 से अधिक बार उनके घर पर मुलाकातें चर्चा का विषय बन चुकीं हैं। फिलहाल अस्थाना और वर्मा के बीच की लड़ाई से सुर्खियों में आए हैदराबाद के कारोबारी सतीश बाबू सना ने बीते साल कथित तौर पर प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों को बताया कि उन्होंने सीबीआई के एक मामले में अपने दोस्त की जमानत के लिए कुरैशी को एक करोड़ रुपये दिए थे। वहीं, सुप्रीम कोर्ट ने सिन्हा को सीबीआई जांच का सामना कर रहे आरोपियों से मुलाकात पर कड़ी फटकार लगाई थी। वहीं, 2012 से 2014 के बीच सीबीआई की अगुअवाई करने वाले सिन्हा इस तरह के आरोपों को खारिज करते रहे।
सना से 3 करोड़ रुपये की रिश्वत का आरोप
कुरैशी की जांच के सिलसिले में अब आलोक वर्मा पर सवाल खड़े किए गए। बुधवार को सरकार ने उनसे सभी अधिकार वापस ले लिए। दरअसल, अस्थाना ने आरोप लगाया है कि कुरैशी केस में राहत पहुंचाने के लिए वर्मा ने सना से 2 करोड़ रुपये की रिश्वत ली है। उधर, वर्मा ने अस्थाना के खिलाफ पिछले हफ्ते FIR दायर की, जिसमें आरोप लगाया गया कि अस्थाना ने सना से 3 करोड़ रुपये की रिश्वत ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *