नैनीतालः पिता ने 10 माह की मासूम सहित दो बेटियों और पत्नि की हत्या कर खाई में खेंका शव, मचा कोहराम

Nainital: Father killed two daughters and his wife

नैनीताल के भीमताल में एक सनसानीखेज मामला सामने आया है। यहां एक किशोरी, महिला और 10 माह की मासूम का शव खाई में मिलने से हड़कंप मच गया है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में हत्या करने का शक महिला के पति पर जा रहा है। माना जा रहा है कि पति ने अपनी पत्नि के चरित्र पर शक होने के कारण अपनी दोंनो बेटियों और पत्नि की निर्मम हत्या कर शवो को खाई में फेंक दिया ।

जानकारी के अनुसार धारी ब्‍लॉक के देवनगर से सोमवार की देर रात पुलिस को महिला, किशोरी और मंगलवार की रात अबोध बालिका के शव मिले थे। जिनकी शिनाख्त बुधवार को भीमताल के अन्तर्गत जंगलियांगाव के तोक सिमाला निवासी विमला देवी पत्नी चंद्रशेखर उम्र 35 वर्ष, उमा पुत्री चंद्रशेखर उम्र 14 वर्ष व रेनू पुत्री चंद्रशेखर उम्र 10 माह के रूप में हुई। बताया जा रहा है कि 19 जनवरी की शाम चंद्रशेखर ने परिजनों को बताया था कि वह अपनी पत्नि और बेटियों के साथ अपनी बूआ जिनकी मौत हो चुकी है, उनके गांव तिमली जा रहे हैं। लेकिन मंगलवार की रात चन्‍द्रशेखर ने फोन कर बीड़ी, मीट आदि लाने के लिए कहा। बंशीधर के मुताबिक मंगलवार की रात मौसम खराब होने के कारण उसने वहां जाने से मना कर दिया तब चंद्रशेखर ने बुधवार को सवेरे 11 बजे सिरवा पुल पर मिलने की बात कही। लेकिन बुधवार को तड़के चंद्रशेखर के भाई बंशीधर ने जब सवेरे शवों के मिलने की खबर पढ़ने के बाद सीधे थाने पहुंचा और अपनी भाभी विमला, भतीजी उमा और रेनू के गायब होने की सूचना दी। चंद्रशेखर का एक दस वर्षीय बेटा धीरज जो कि कक्षा चार में पढ़ता है इन दिनों अपनी बुआ भावना पत्नी  प्रकाश चंद्र के वहां धुलई में रह रहा है।

यह भी पढ़ेंः देहरादून में कार सहित युवक का अपहरण, हत्या कर शव नहर में फेंका, क्षेत्र में तनाव

बताया जा रहा है कि चंद्रशेखर अपनी पत्‍नी पर शक करता था। इसी कारण उसने मंगलवार 23 जनवरी की देर शाम रिश्ते में चाचा लगने वाले मोहर राम पुत्र पनी राम पर दराती से हमला करने का प्रयास किया और विफल होने पर तेजाब डाल दिया। मोहन राम का इलाज सुशीला तिवारी अस्पताल में चल रहा है। वहीं क्षेत्रवासियों की माने तो मोहन राम ने हमले के दौरान चंद्रशेखर से दराती भी छीनी थी। घटना में मोहन राम को काफी चोट आई थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *