श्रीनगर से शिफ्ट नहीं होगा एनआईटी , जल्द बनेगा स्थायी कैंपस

श्रीनगर से शिफ्ट नहीं होगा एनआईटी , जल्द बनेगा स्थायी कैंपस

एनआईटी श्रीनगर के लिए जल्द ही स्थायी कैंपस बन जाएगा। इसके लिए राज्य में स्थानीय निकाय की चुनाव आचार संहिता खत्म होने के बाद सरकार कैबिनेट में प्रस्ताव लाएगी। साथ ही छात्रों की अन्य समस्याओं के स्थायी समाधान के लिए भी रास्ता तलाशा जा रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस संबंध में बुधवार को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावेड़कर से फोन पर बातचीत की। मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि एनआईटी श्रीनगर से शिफ्ट नहीं होगा।

एनआईटी श्रीनगर को लेकर मुख्यमंत्री श्री रावत ने बुधवार को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री जावेड़कर से जमीन और अन्य समस्याओं पर बातचीत की। मुख्यमंत्री ने बताया कि एनआईटी श्रीनगर के स्थायी कैंपस के लिए सुमाड़ी के पास ही करीब 122 एकड़ जमीन तलाश ली गई है। चुनाव आचार संहिता खत्म होने के बाद सरकार इस जमीन का हस्तांतरण एनआईटी के नाम करने के लिए कैबिनेट में प्रस्ताव लाएगी।मुख्यमंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि छात्रों की हाॅस्टल की समस्या का स्थायी समाधान भी निकाला जाएगा। स्थायी कैंपस बनने तक श्रीनगर में ही प्रशासनिक भवन और फैक्लटी भवन तक पहुंचने के लिए अलग से मार्ग बनाया जाएगा। इससे छात्रों को राष्ट्रीय राजमार्ग से नहीं गुजरना पड़ेगा। उन्होंने एनआईटी श्रीनगर को लेकर की जा रही राजनीति को भी दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि एनआईटी किसी भी स्थिति में श्रीनगर से शिफ्ट नहीं होगा। इस संबंध में उनकी केंद्रीय मंत्री से बातचीत हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *