एक तरफा प्यार में हैवानियत की हदें पार , नाबालिक लड़की को घर में घुस कर जिंदा जलाया, तनाव

 उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां सिरफिरे आशिक ने एक तरफा प्यार में दलित नाबालिग के घर में घुसकर उसे जिंदा जला दिया। किशोरी 95 फीसदी तक बुरी तरह झुलस चुकी है। बुरी तरह से झुलसी युवती को जिला अस्पताल से वाराणसी के लिए रेफर किया गया है। उधर युवक के संप्रदाय विशेष होने के कारण माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया है। मौके पर कई थाना की पुलिस को तैनात किया गया है।
जानकारी के मुताबिक मामला निजामाबाद थाना क्षेत्र के फरिहां गांव का है। यहां फरिहां के पश्चिम बस्ती में हरिलाल अपनी पत्नी और चार बेटियों के साथ रहते हैं। सोमवार देर शाम घर के लोग बाहर थे। उनकी सबसे छोटी 16 साल की बेटी दीपा अचानक आग का गोला बनी चीखते हुए घर के बाहर निकली। पीछे से उसी गांव का शफी भी बदहवास हालत में बाहर निकला, जिसके बाद मौके पर चीख पुकार शुरू हो गई। मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने युवक को पकड़कर उसकी जमकर धुनाई कर दी।मामला दो वर्गों के होने से गांव में तनाव व्याप्त है। मौके पर कई थानों की पुलिस फोर्स भी पहुंच गई है।
नंबर नहीं देने पर जलाया जिंदा
बताया जा रहा है कि युवक कई दिनों से किशोरी को परेशान कर रहा था। उससे मोबाइल नंबर मांग रहा था। किशोरी के नंबर नहीं देने पर मौका देखकर घर में घुस गया। उसका मोबाइल छीनने लगा। किशोरी ने विरोध किया तो उस पर तेल छिड़ककर आग लगा दी।
यह भी पढ़े :
छेड़खानी को लेकर दो वर्गों में पथराव, गांव में फोर्स तैनात
पुलिस अभी एक मामले को निबटाने में जुटी ही थी कि फरिहां गांव में ही अनुसूचित जाति बाहुल्य दूसरे मोहल्ले में एकबार फिर सांप्रदायिक तनाव कायम हो गया। दरअसल अनुसूचित जाति की युवतियां व महिलाएं शौच को जा रही थी कि दूसरे वर्ग के युवकों ने उनके मुंह पर टार्च जलाकर छेड़खानी शुरू कर दी। इसी बात को लेकर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए और पथराव शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही मौके पर कई थानों की फोर्स पहुंच गई। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *