टिहरी लेक फेस्टिवल की चल रही जोर शोर से तैयारियां ,उत्तराखंड की संस्कृति से होंगे रूबरू

Preparations from the ongoing Tehri Lake festival will be from the culture of Uttarakhand.

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बुधवार को टिहरी की कोटी कालोनी में पहुँच कर टिहरी लेक फेस्टिवल की तैयारियों का निरीक्षण किया।टिहरी लेक फेस्टिवल’ में इस साल साहसिक खेलों के साथ-साथ उत्तराखंड की संस्कृति से रूबरू होन का मौका मिलेगा। इस महोत्सव की मुख्य थीम गढ़वाली संस्कृति पर आधारित होगी। फेस्टिवल में महिलाओं के लिए खास फैशन शो भी आयोजित होगा, जिसमें महिलाएं पारंपरिक परिधानों में कैटवाॅक करेंगी।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र कैबिनेट की मीटिंग में प्रतिभाग करने टिहरी पहुँचे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि टिहरी लेक फेस्टिवल का राष्ट्रीय स्तर के साथ ही विदेशी पर्यटकों के मध्य भी प्रचार किया जाय। टिहरी को इंटरनेशनल स्तर का टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनाना है। बाहर से सैलानियों को आकर्षित किया जाय। उनके अनुभवों को रिकॉर्ड करने तथा उनके फीड्बैक की भी व्यवस्था की जाय। उन्होंने कहा कि आज के प्रयास आने वाले कल को ध्यान में रखते हुए नियोजित किया जाय। मुख्यमंत्री ने बोट के द्वारा टिहरी झील में लगभग 30 मिनट निरीक्षण किया। उन्होंने झील और आसपास के क्षेत्र को पर्यटन विभाग की शीर्ष प्राथमिकता वाली योजनाओं में रखने का निर्देश भी दिया। इस अवसर पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़े :देहरादून के इस स्टेडियम में खेला जाएगा पहला अंतरराष्ट्रीय T- 20 मुकाबला, तीन जून को भिड़ेंगी ये विदेशी टीमें

इस अवसर पर डीएम टिहरी सोनिका ने लेक फेस्टिवल की तैयारियों को लेकर एक प्रस्तुतीकरण भी दिया। यह फेस्टिवल 25 से 27 मई तक आयोजित किया जाएगा।  फेस्टिवल में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ साहसिक खेल गतिविधियों तथा योग-ध्यान के कई आयोजन भी होंगे। फेस्टिवल का मुख्य आकर्षण झील की फ्लोटिंग हट्स भी होंगे, जिनकी बुकिंग गढ़वाल मण्डल विकास निगम द्वारा की जा रही है। डीएम ने बताया की टूर आपरेटर्स के साथ बात की जा रही कि वे अपने पैकेज में टिहरी लेक फेस्टिवल के लिए भी जगह बनाए।इस अवसर पर सीएस उत्पल कुमार सिंह एवं सचिव पर्यटन  दिलीप जावलकर भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *