एमएस धोनी ने सैन्‍य वर्दी में राष्‍ट्रपति से लिया पद्म भूषण, पाकिस्तानी भी हुए मुरीद

President gave Padma Bhushan to Mahendra Singh Dhoni

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को सोमवार रात राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद्म भूषण सम्मान से नवाजा। इस मामले में एक बड़ा संयोग रहा। उन्हें यह पुरस्कार सी दिन मिला जिसदिन उन्होंने देश के लिए वर्ल्ड कप जीता था। दरअसल, 2 अप्रैल 2011 को ही टीम इंडिया ने माही (धोनी के घर का नाम ) की कप्तानी में 28 साल का सूखा खत्म कर वर्ल्ड कप जीता था। इसी दिन उन्हें पद्म भूषण से भी सम्मानित किया गया। धोनी ने आर्मी कर्नल की यूनिफॉर्म में यह सम्मान प्राप्त किया। जब सम्मान समारोह में धोनी का नाम लिया गया तो वो एक जवान की तरह राष्ट्रपति कोविंद के पास गए और उन्हें सैल्यूट किया।

मुंबई में विश्व कप 2011 के फाइनल में यादगार छक्का जड़कर भारत को खिताब दिलाने के ठीक सात साल बाद महेंद्र सिंह धोनी एक बार फिर सभी के आकर्षण का केंद्र बने जब इस मानद लेफ्टिनेंट कर्नल ने सेना की पोशाक में पद्म भूषण पुरस्कार स्वीकार किया।1983 में कपिल देव की कप्तानी में भारत ने पहला वर्ल्ड कप जीता था। कपिल देव के बाद धोनी भारत के दूसरे क्रिकेटर हैं, जिन्हें यह सम्मान दिया गया।धोनी को इससे पहले 2007 में देश का सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न जबकि 2009 में देश का चौथा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म श्री दिया गया। इस सम्मान के बाद धोनी ने सोशल मीडिया पर ये बताया कि वो पद्मभूषण हासिल कर कितने खुश हैं। धोनी ने लिखा, ‘पद्मभूषम मिलना सम्मान की बात है।सेना की वर्दी में ये सम्मान मिलने से ये खुशी दस गुना बढ़ गई है। मैं सेना के सभी जवानों और उनके परिवार का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने हमारे देश के लिए इतनी कुर्बानियां दी हैं जिनकी वजह से आज हम अपने संवैधानिक अधिकारों का इस्तेमाल कर पा रहे है।जय हिंद’

गौरतलब है कि धोनी भारतीय सेना में उपाधि प्राप्त कर्नल हैं। वो कुछ मौकों पर आर्मी की कठिन ट्रेनिंग से गुजर चुके हैं। उन्होंने एयर जंपिंग भी की है। कई बार वो दूर-दराज की आर्मी पोस्ट्स पर भी जा चुके हैं।धोनी का आर्मी यूनिफॉर्म में पद्म भूषण लेते हुए फोटो सोशल मीडिया पर जैसे ही वायरल हुआ। पाकिस्तान से भी उनके फैन्स ने बधाई देना शुरू कर दिया।उनकी एक फैन रूमेल सिद्दीकी ने ट्वीट में कहा- बधाई हो धोनी, आपने अपने देश का सिर ऊंचा किया है। आप वास्तव में लोगों के लिए प्रेरणास्रोत हैं। पाकिस्तान की तरफ से भी आपको बधाई। धोनी के अलावा बिलियर्ड्स के वर्ल्‍ड चैंपियन पंकज आडवाणी ने भी पद्म भूषण हासिल किया। बेंगलुरू के आडवाणी अब तक 18 वर्ल्‍ड खिताब जीत चुके हैं । पिछले साल नवंबर में उन्‍होंने आईबीएसएफ वर्ल्‍ड स्‍नूकर चैंपियनशिप में खिताबी जीत हासिल की है।

यह भी पढ़े:PM मोदी ने फेक न्यूज़ पर जारी की गई स्मृति ईरानी की गाइडलाइन वापस लेने के दिए आदेश

पद्म भूषण लेने सेना की वर्दी में क्यों पहुंचे धोनी?
एम एस धोनी को सेना की वर्दी में देख कई लोगों के जहन में सवाल आया कि आखिर धोनी ऐसे क्यों आए? धोनी को एक क्रिकेटर के तौर पर हासिल की उपल्ब्धियों के लिए पद्म भूषण दिया जा रहा था लेकिन उन्होंने सेना की वर्दी पहनी। दरअसल धोनी खुद को क्रिकेटर से पहले सेना का जवान मानते हैं। धोनी कहीं भी जाते हैं उनके पहनावे में सेना के जवान की झलक दिखती है। किट बैग हो, जूते हों या टीशर्ट और लोअर, धोनी अकसर आर्मी कलर में रंगे नजर आते हैं। धोनी ने कई बार मीडिया के सामने कहा है कि अगर वो क्रिकेटर नहीं होते तो वो फौज में जाते ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *