श्रीदेवी के निधन की दोबारा जांच याचिका खारिज, SC ने कहा ,हम दखल नहीं दे सकते है

SC rejects Sridevi's revision petition, SC says, we can not interfere

दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत की जांच को लेकर दाखिल की गई याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। मुख्‍य न्‍यायाधीश दीपक मिश्रा, न्‍यायाधीश ए एम खानविलकर और डी वाई चंद्रचूड़ की बेंच ने यह कहते हुए याचिका को खारिज कर दिया कि, हम इस मामले में पहले भी दो याचिका खारिज कर चुके हैं, हम दखल नहीं दे सकते हैं।

निर्देशक सुनील सिंह की याचिका पर SC का फैसला 
सुनील सिंह श्रीदेवी के केस की इंवेस्टिगेशन के बारे में काफी कुछ जानते हैं और उनको अभी भी इस केस में कुछ और छुपे हुए ऐंगल दिख रहे हैं। इस वजह से उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर दी थी ताकि श्रीदेवी के निधन के केस की जांच दोबारा हो सके। फिलहाल सुप्रीम कोर्ट ने सुनील सिंह की ये याचिका खारिज कर दी है।फिल्‍ममेकर सुनील सिंह ने अपनी याचिका में कहा था कि जिन संदिग्‍ध हालत में दुबई में श्रीदेवी की मौत हुई, उसकी जांच बेहद जरूरी है।अब भी उनकी मौत से जुड़े कई सवालों जवाब नहीं मिल पाये हैं।
ओमान में 240 करोड़ रुपये का बीमा,यूएई में मौत थी शर्त
सुप्रीम कोर्ट में यह भी कहा गया कि श्रीदेवी के नाम ओमान में 240 करोड़ रुपये का बीमा था और शर्त यह भी कि अगर उनकी मौत यूएई में होगी तभी ये रकम उनके परिवार को मिलेगी।याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में कहा है कि श्रीदेवी की मौत के दौरान वे दुबई में ही थे और दोस्‍तों से सूचना मिलते ही पहले वो श्रीदेवी के होटल और फिर उस हॉस्पिटल भी गये थे जहां श्रीदेवी को ले जाया गया। होटल में लोगों से बातचीत में उन्‍हें कई बातों का पता चला था।याचिका में यह भी कहा गया है कि दुबई पुलिस ने श्रीदेवी के मौत पर संदेह जताया था लेकिन एंबेसी के दखल के बाद आनन-फ़ानन में केस बंद कर दिया गया और श्रीदेवी का शव भारत भेज दिया गया।
श्रीदेवी बेहोश मिली थीं, वो मरी नहीं थीं
बता दें कि श्रीदेवी की मौत दुबई में उनके भांजे मोहित मारवाह की शादी के दौरान कार्डिएक अरेस्ट की वजह से हुई थी। मालूम की सुनील श्रीदेवी के निधन के केस में इंवेस्टीगेशन के दौरान दुबई में ही थे। सुनील को दुबई में जैसे ही श्रीदेवी के निधन की खबर मिली वो पहले उनके होटल पहुंचे जहां वो रुकी थीं और फिर हॉस्पिटल जहां वो भर्ती थीं। सुनील का कहना है कि उन्हें उस वक्त श्रीदेवी बेहोश मिली थीं, वो मरी नहीं थीं पर बोनी कपूर ने उन्हें हॉस्पिटल ले जाने में देरी कर दी थी।
सीनियर काउंसल विकास सिंह ने उठाया सवाल
खबर के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट की बेंच के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एएम खानविलकर और जस्टिस डीवाय चंद्रचूड़ ने याचिका को खारिज कर दिया है। साथ में सीनियर काउंसल विकास सिंह ने एक सवाल उठाया कि 5.7 फुट लंबाई वाले व्यक्ति की 5.1 फुट बाथटब में कैसे डूब सकता है? दिल्ली हाई कोर्ट में सुनील की ये याचिका 9 मार्च को ही खारिज कर दी गई थी। इसके बाद सुनील एपेक्स कोर्ट में गए तो वहां पर भी उनको यही जवाब मिला कि भारत और दुबई पहले ही मामले की जांच कर चुके हैं। बता दें कि सुनील ने बॉलीवुड में दिलवाले, क्रांतिवीर और प्यार हो गया जैसी फिल्में का निर्देशन कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *