उत्तराखंड में रिश्ते शर्मसार, जीजा के साथ मिलकर छोटी बहन ने बड़ी बहन को उतारा मौत के घाट

उत्तराखंड में रिश्तों को शर्मसार करती दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। ऊधमसिंह नगर में एक दूसरे के प्यार में अंधे हुए जीजा-साली ने मिलकर दो नन्हे मासूमों के सिर से मां का साया छीन लिया है। वारदात के दिन जब परिजनों को यासमीन मृत मिली तब उन्होंने सोचा भी नहीं होगा कि छोटी बहन ने ही उसकी हत्या की होगी। यासमीन का 11 माह का बेटा और चार साल की बेटी हैं। उन्हें नहीं पता, जिसे वे मौसी पुकारते हैं वही उनकी मां का आंचल उनसे छीन लेगी। आरोपियों को कोर्ट में पेश करने की कार्रवाई की जा रही है।

पुलिस के अनुसार शादाब की शादी यासमीन से वर्ष 2014 में हुई थी। पुलिस के अनुसार शादी के आठ माह बाद ही जीजा और साली में शारीरिक संबंध बन गए थे। जीजा साली इस दौरान नानकमत्ता और काठगोदाम के होटलों में भी रहे, जिसकी खबर यासमीन को हो गई थी।   जिसके बाद यासमीन को बीच से हटाने के मकसद से शादाब और उसकी साली ने योजना बनाकर यासमीन की हत्या की थी। सीओ ने बताया कि शादाब पत्नी यासमीन को छोड़ने ससुराल कठंगरी आया था और दूसरे दिन घर में दोबारा मिलने के बहाने पहुंच गया।आरोपी ने साली के साथ मिलकर पूरे परिवार के खाने में नींद की गोलियां मिला दीं, जब सब लोग सो गए तो बहन ने यासमीन की गला दबाकर हत्या कर दी।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड में भाजपा नेता के बेटे ने दिन-दहाड़े गोली मारकर की कांग्रेस नेता की हत्या,भारी पुलिस फोर्स जमा

बड़ी बहन की हत्या के बाद पूरी रात जीजा से फोन पर की चैट

बताया जा रहा है कि बड़ी बहन यासमीन की हत्या करने के बाद पूरी रात जीजा साली फोन पर चैट करते रहे। उसने ही शादाब को काम पूरा होने की जानकारी दी। इसके बाद शादाब के कहने पर उसने फोन को झाड़ियों में फेंक दिया था, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया। सीओ हिमांशु शाह ने बताया कि इस मामले में क्षेत्र के कठंगरी निवासी रियाज अहमद पुत्र अब्दुल वहीद ने पुलिस को तहरीर देकर अपने दामाद शादाब निवासी नई बस्ती किच्छा पर पुत्री को जहर देकर मारने का आरोप लगाया था। इसके बाद से पुलिस जांच कर रही थी। जिसका खुलासा कर दिया गया है। आरोपियों को कोर्ट में पेश करने की कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *