उत्तराखंड में जंगली कुत्तों का आतंक, दो बच्चियों पर हमला , गंभीर घायल

Terror of wild dogs in Uttarakhand, attack on two girls, severely injured

उत्तराखंड में जंगली जानवरो का आतंक मचा हुआ है। कहीं गुलदार , कहीं भालू तो कहीं बंदरों ने आम जन को अपना शिकार बना रखा है। ताजा मामला रुड़की से आया है यहां जंगली कुत्तो ने दो बच्चियों को अपना शिकार बनाया और उन्हें बुरी तरह घायल कर दिया। नगर निगम इन जंगली और आवारा कुत्तों के आतंक से बेखबर रहकर किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं कर रहा है। रामपुर में जंगली कुत्तो के हमले के मामले सामने आ चुके है।

घटना रुड़की में रामपुर की है। यहां मोहनपुर पांडा निवासी सईद ने सोलानी नदी के किनारे सब्जी बोई हुई है। घटना उस समय हुई जब शुक्रवार सुबह वह सब्जी लेकर मंडी गया हुआ था। जबकि बच्चे खेत के आसपास खेल रहे थे। सुबह करीब 10 बजे कुत्तों का एक झुंड बच्चियों पर टूट पड़ा। इतनी देर में कुत्तों ने फरहीन (11) का मुंह नोचकर लहूलुहान कर दिया। सना पुत्री यूसुफ पर भी कुछ कुत्ते टूट पड़े।बच्चियों की चीख सुनने के बाद आसपास खेतों में काम कर रहे किसान मोके पर पहुंचे और `सना को जैसे-तैसे कुत्तों के चंगुल से छुड़ाया। परिजनों को सूचित किया।

यह भी पढ़ें:शर्मनाक घटना ,देर रात पिथौरागढ़ में इस हाल में मिली नवजात बच्ची , पसीजे दिल

उसके बाद परिजन दोनों को लेकर सिविल अस्पताल पहुंचे। जहां दोनों को भर्ती कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि नगर निगम के ठेकेदार मृत पशुओं को आसपास फेंक दे रहे हैं। इसका मांस खाकर जंगली कुत्ते पल रहे हैं। यही कुत्ते क्षेत्र में आतंक मचाए हुए हैं। कुछ साल पहले भी कुत्तों के एक झुंड ने फक्कड़ बाबा पर हमला कर मौत के घाट उतार दिया था। नगर निगम की इस और अनदेखी आम जान के लिए मुसीबत का कारण बनी हुई है। प्रशासन की और किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं की जा रही है। जिससे लोगो का घर से निकलना भी दुश्वार होता जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *