घर पर इन रंगों के पशु-पक्षी को रखने से होती है धनवर्षा

घर पर इन रंगों के पशु-पक्षी को रखने से होती है धनवर्षा

देहरादून। घर में रह रहे जानवर और पंछी भी शुभ और अशुभ परिणाम देते हैं। आधुनिक युग में लोग वास्तु और फेंगशुई का अनुसरण करने लगे हैं। जिसके फलस्वरूप वो उससे संबंधित सामान को भी घर-कार्यस्थल में सजाते हैं। फेंगशुई एक्सपट्रस की मानें तो 8-9 नारंगी मछलियों के साथ एक काली मछली होनी चाहिए। एक गोल्ड फिश को भी बैस्ट माना जाता है। लाल और एक काली फिश को लक और खुशहाली से जोड़ कर देखा जाता है। एक्वेरियम में रखी जाने वाली मछलियों की संख्या 9 होनी चाहिए। चाइनीज वास्तु के अनुसार घर में सुनहरे रंग की मछली रखने से सुख व शांति की प्राप्ति होती है।

ये भी पढ़ें- जानें कैसा रहेगा यह सप्ताह आपके लिए

अधिकतर लोग घर में कुत्ता पालते हैं। माना जाता है की कुत्ता इंसान से अधिक वफा निभाता है। हिंदू धर्म में कुत्ते को भैरव का सेवक माना जाता है। घर में कुत्ता रखने व उसे प्रतिदिन भोजन करवाने से धन-समृद्धि आती है। काले रंग का कुत्ता जमकर बरसाता है घर में पैसा, मिलते हैं ढेरों लाभ।  घर में कछुआ रखना शुभ माना जाता है। कछुआ भगवान के दशावतारों में से एक है अौर लक्ष्मी मां का प्रतिनिधि भी माना जाता है। कछुआ एक प्रभावशाली यंत्र है जिससे वास्तु दोष का निवारण होता है और खुशहाली आती है। बिल्ली से संबंधित अलग-अलग मान्यताएं हैं। कुछ लोग बिल्ली को घर में रखना लक्की मानते हैं तो कुछ अनलक्की। पुराणों के अनुसार घर में बिल्ली का बार-बार आना अशुभ होता है। इसे नकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक कहा गया है। मान्यता है कि तोते को किसी भी अनहोनी का पहले ही पता चल जाता है इसलिए तोते को घर में रखना शुभ होता है। ऐश्वर्य व सुख की बढ़ौतरी के लिए घर में घोड़ा रखेें। संभव न हो तो घोड़े की प्रतिमा भी रख सकते हैं। खरगोश शीघ्र प्रजनन करने वाला स्तनधारी है। इसको पालने से समृद्धि आती है व बच्चों के लिए शुभ माना जाता है। पुराने समय में ऋषि हिरण पालते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *