लंदन में इस भारतीय ने 1000 करोड़ में खरीदी 1829 की ऐतिहासिक इमारत, बनाया आलीशान होटल

लंदन में इस भारतीय ने 1000 करोड़ में खरीदी 1829 की ऐतिहासिक इमारत, बनाया आलीशान होटल

लंदन की एक बेहद ऐतिहासिक इमारत स्कॉर्टलैंड यार्ड बिल्डिंग को एक भारतीय ने खरीद कर उसे आलीशान होटल में बदल दिया है। बताया जा रहा है कि यह इमारत लंदन मेट्रोपॉलिटन पुलिस का मुख्यालय हुआ करती थी। इस बिल्डिंग को भारतीय उद्योगपति यूसुफ अली कादेर ने  लगभग 1000 करोड़ रुपये में खरीदा था। इस होटल में एक रात रहने का किराया 9 लाख रुपये तक होने की उम्मीद है।

रिपोर्ट्स के अनुसार स्कॉर्टलैंड यार्ड बिल्डिंग को होटल में बदलने के लिए लगभग 685 करोड़ रुपये का खर्च आया है। इस होटल में कुल 153 कमरे हैं। अब इसे लग्जरी होटल में बदल दिया गया है। इसी साल इसका उद्घाटन होगा। इस होटल में बार, रेस्टोरेंट, चाय पार्लर, स्वीमिंग पूल सहित कई अत्याधुनिक सुविधाएं मौजूद हैं। यहां अपराधियों को रखे जाने वाले सेल को शानदार कमरों में बदला गया है जिसे लोग किराए पर ले सकेंगे। इस होटल के कुछ कमरों से ब्रिटेन के सबसे प्रसिद्ध जगहों को देखा जा सकता है। यहां एक रात का किराया लगभग नौ लाख रुपये के आस-पास है। यहां कैदियों द्वारा तैयार की गई कलाकृतियां भी मेहमानों को दिखाया जाएगा। शानदार लुक देने के लिए इसमें विभिन्न मार्बल्स, स्टोन, क्रिस्टल, वुड और लेयर्स सहित बेहतरीन सामान लगाए गए हैं। इसके अलावा इटली, वियतनाम, चीन, जापान और तुर्की सहित 200 से अधिक विभिन्न कस्टम-मेड सामग्रियों, झूमर और फिटिंग्स का प्रयोग किया गया है।

यह भी पढ़ेंः वाइस एडमिरल करमबीर सिंह होंगे भारतीय नौसेना के अगले चीफ, 31 मई को लांबा होगे रिटायर

लंदन की प्रॉपर्टी मार्केट में किसी भारतीय द्वारा किया गया ये हाल का बड़ा निवेश है।इसे यूसुफ अली कादर ने खरीदा है। बता दें कि युसुफ भारत के केरल से ताल्लुक रखते हैं और आबू धाबी में स्थित लूलू ग्रुप नाम की कंपनी चलाते हैं। उन्होंने इसे गलिआर्ड होम्स नाम की कंपनी से खरीदा था और गेलियार्ड होम्स को रक्षा मंत्रालय ने फंड जुटाने के उद्देश्य से इस इमारत को साल 2013 में  बेच दिया था। इसका निर्माण 1829 में किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *