टीम इंडिया :इस खिलाडी ने दोहरा शतक जड़ तोड़ दिया12 साल पुराना रिकॉर्ड ,ताबड़तोड़ बैटिंग से मचाया तहलका

टीम इंडिया में इस नए खिलाडी ने दोहरा शतक जड़ तोड़ दिया 12 साल पुराना रिकॉर्ड ,ताबड़तोड़ बैटिंग से मचाया तहलका

भारत-श्रीलंका के बीच खेली जा रही यूथ टेस्ट सीरीज में कई युवा खिलाड़ी सुर्खियां बटोर रहे हैं। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ दो मैचों की सीरीज में शानदार शुरुआत की है। मैच के दौरान सबकी नजरे सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर पर टिकी थी पर एक अनजान खिलाडी महज दो मैचों में क्रिकेट की दुनिया में चाह गया। अपनी ताबड़तोड़ बेटिंग से न सिर्फ सीरीज में तहलका मचाया बल्कि 12 साल पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है।

बता दे की पहले टेस्ट में भारत की टीम ने हरफनमौला प्रदर्शन करते हुए श्रीलंका को पारी और 21 रन से शिकस्त दी थी। दूसरे मैच में पवन शाह के रिकॉर्ड दोहरे शतक से विशाल स्कोर खड़ा करने वाली भारतीय टीम ने श्रीलंका के शीर्ष क्रम को झकझोर कर अपनी पकड़ मजबूत कर ली। पुणे के 18 वर्षीय शाह ने एक ओवर में लगातार छह चौके भी जड़े। शाह ने तन्मय श्रीवास्तव का रिकॉर्ड तोड़ा, जिन्होंने 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ पेशावर में 220 रन बनाए थे। सात घंटे क्रीज पर बिताने वाले शाह ने अपनी पारी में 382 गेंदों का सामना कर 33 चौके और एक छक्का लगाया।उन्होंने तन्मय श्रीवास्तव का रिकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ पेशावर में 220 रन बनाए थे। गौरतलब है की उनके रिकॉर्ड दोहरे शतक से अंडर-19 भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी आठ विकेट पर 613 रन बनाकर समाप्त घोषित की।
यह भी पढ़े :साधारण किसान की बेटी ने भारत को दिलाया आईएएएफ में पहला गोल्ड मेडल ,रचा इतिहास
शाह का स्कोर युवा टेस्ट मैचों में आस्ट्रेलिया के क्लिंटन पीक के नाबाद 304 रन के बाद दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है. पीक ने 1995 में भारत के खिलाफ मेलबर्न में यह पारी खेली थी। शाह की पारी का आकर्षण पारी के 108 वें ओवर में बायें हाथ के तेज गेंदबाज विचित्रा परेरा पर लगातार छह चौके लगाना रहा। उन्होंने इनमें से पहले चौके से दोहरा शतक पूरा किया। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इससे पहले एक ओवर में छह चौके 1982 में संदीप पाटिल ने इंग्लैंड के तेज गेंदबाज बाब विलिस पर लगाए थे। विलिस ने हालांकि उस ओवर में एक नोबॉल भी की थी। शाह ने अपनी पारी में 382 गेंदों का सामना किया तथा 33 चौके और एक छक्का लगाया। वहीं दूसरी और दूसरे मैच में अर्जुन से काफी उम्मीदें थी लेकिन वह 14 रन बनाकर रन आउट हो गए। उन्होंने 18 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 14 रन बनाए। पहले मैच में भी अर्जुन बैटिंग में कोई कमाल नहीं दिखा सके थे और शून्य पर आउट हो गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *