WhatsApp ने लॉच किया यह नया फीचर, बताएगा कौन सी न्यूज़ है फेक, किस मैसेज को करे फॉरवर्ड

Whatsapp Launches This New Feature, Will Tells Which News Is Fak

WhatsApp ने अपने यूजर्स के लिए एक और नए फीचर को लांच किया है। यह फीचर देश में सोशल मीडिया के जरिए देश में फैलाई जा रही अफवाहों को ध्यान में रख कर बनाया गया है , इस फीचर की मदद से अब यूजर्स को पता चल सकेगा कि कौन सा मेसेज फेक है ,उन्हें किस मैसेज को फॉरवर्ड करना चाहिए और कौन सा नहीं।

आपको बता दे की फेसबुक के स्वामित्व वाले मेसेजिंग ऐप WhatsApp ने आज से ही अपनी ‘फॉरवर्ड मेसेज इंडिकेटर’ सर्विस की शुरुआत की है। प्रेस रिलीज में बताया गया कि यह सर्विस आपके वन टू वन और ग्रुप चैट को आसान बनाने में आपकी मदद करेगा। इस सेवा से अब किसी भी यूजर को यह पता लगाने में मदद मिलेगी कि उसे प्राप्त हुआ संदेश वास्तविक है या किसी और के संदेश को उसे फॉरवर्ड किया गया है। कंपनी ने ऐसा देश में झूठी खबरों, अफवाह फैलने और गलत जानकारी से यूजर्स को बचाने के लिए किया है। उल्लेखनीय है कि हाल के दिनों में सोशल मीडिया के जरिए देश में फेक न्यूज और अफवाहें फैलाने के कई मामले देखे गए। वॉट्सऐप भड़काऊ मैसेज और अफवाहें फैलाने को लेकर विवादों में घिरा हुआ है।

कंपनी ने अपने नए फीचर को लेकर दुनिया भर में प्रेस रिलीज जारी की है। इसमें कहा गया है कि वॉट्सऐप यूजर को यह पता चल जाएगा कि कौन-कौन से मैसेज उसे फॉरवर्ड किए गए हैं। इससे यूजर को एक-दूसरे के साथ और वॉट्सऐप ग्रुप में बातचीत करने में आसानी होगी। इस फीचर के लिए यूजर को अपने स्मार्टफोन में वॉट्सऐप का अपडेटेड वर्जन रखना होगा। हालांकि, अब भी यह सवाल बना हुआ है कि वॉट्सऐप के इस कदम से फेक न्यूज पर किस हद तक लगाम लगेगी। इस नई सुविधा से यूजर को यह भी पता चलेगा कि उसके दोस्त या रिश्तेदार द्वारा भेजा गया मैसेज उन्होंने लिखकर भेजा है या कहीं और से आया है।
यह भी पढ़े :वाट्सएप पर अश्लील मैसेज शेयर करने का आरोपी अफसर सस्पेंड
इसी कड़ी में Whatsapp ने कुछ प्वाइंट्स बताए हैं, जिन्हें अपनाकर इन समस्याओं को दूर किया जा सकता है। इसके लिए कंपनी ने तमाम अखबारों में विज्ञापन भी दिया है। इन विज्ञापन में वाट्सऐप ने कहा है, ‘हम एक साथ मिलकर गलत जानकारी की समस्या को दूर कर सकते हैं। इसके लिए प्रौद्योगिकी कंपनियों, सरकार और सामुदायिक संगठनों को मिलकर काम करना होगा। अगर आपको कुछ ऐसा दिखाई देता है जो आपको लगता है कि सच नहीं है तो कृपया उसकी रिपोर्ट करें। ’ इस विज्ञापन में वाट्सऐप ने उपयोक्ताओं से अनुरोध किया है कि वे अग्रेषित किए गए संदेशों से सावधान रहें, परेशान करने वाली जानकारी पर खुद से सवाल उठाएं, जिस जानकारी पर यकीन करना मुश्किल हो उसकी जांच करें, संदेशों में मौजूद फोटो या वीडियो को ध्यान से देखें, लिंक की जांच करें और संदेशों को सोच समझकर साझा करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *