विश्व परिवार दिवस आज, जानें कैसे शुरू हुआ यह दिवस मनाने का सिलसिला

World Family Day today, know how to celebrate this day

परिवार का स्थान हर व्यक्ति के जीवन में सबसे पहला होता है।इसलिए आधुनिक समाज में परिवारों के महत्त्व को उजागर करने के उद्देश्य से दुनियाभर में 15 मई को अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाया गया। यह दिन परिवार के सदस्यों में समानता और घरेलू जिम्मेदारियो को मिलजुल कर पूरा करने की भावना विकसित करने में सहायक है।

हमारी संस्कृति और सभ्यता कितने ही परिवर्तनों को स्वीकार करके अपने को परिष्कृत कर ले, लेकिन परिवार संस्था के अस्तित्व पर कोई भी आंच नहीं आई। वह बने और बन कर भले टूटे हों लेकिन उनके अस्तित्व को नकारा नहीं जा सकता है। उसके स्वरूप में परिवर्तन आया और उसके मूल्यों में परिवर्तन हुआ लेकिन उसके अस्तित्व पर प्रश्नचिह्न नहीं लगाया जा सकता है। हम चाहे कितनी भी आधुनिक विचारधारा में हम पल रहे हो लेकिन अंत में अपने संबंधों को विवाह संस्था से जोड़ कर परिवार में परिवर्तित करने में ही संतुष्टि अनुभव करते हैं।

यह भी पढ़े :Mother day Special: जानिए मदर्स डे की असली कहानी और इस दिन से जुड़ी दिलचस्प बातें

विश्व परिवार दिवस का इतिहास

20 सितंबर 1993 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने ए/आरईएस/47/237 नामित एक संकल्प पारित किया जिसने 44/82 नामक संकल्प को दोहराया जिसे दिसंबर 1989 में उत्तीर्ण किया गया था और 46/92 नामित संकल्प पारित किया गया जिसे दिसंबर 1991 में उत्तीर्ण किया गया था। इन्हें पुन: निर्दिष्ट और दुनिया भर के परिवारों के बेहतर जीवन मानकों और सामाजिक प्रगति को प्रोत्साहित करने और संयुक्त राष्ट्र के दृढ़ संकल्प को प्रदर्शित करने के लिए पारित किया गया।1994 में संयुक्त राष्ट्र ने आधिकारिक रूप से संशोधित आर्थिक और सामाजिक संरचनाओं के जवाब में परिवारों के अंतर्राष्ट्रीय दिवस को घोषित किया जो दुनिया के कई हिस्सों में स्थिरता और परिवार इकाइयों की संरचना को प्रभावित करते हैं। यह दिन 1993 में शुरू किया गया था और दुनिया भर में लोगों, समाजों, संस्कृतियों और परिवारों के सार को मनाने के लिए काम करने के लिए एक अवसर के रूप में कार्य करता है। अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस के प्रतीक (सिंबल) में एक हरे गोलाकार चित्र में लाल रंग की छवि शामिल है। इस प्रतीक (सिंबल) में एक घर और एक दिल शामिल हैं। इससे यह तथ्य साफ़ होता है कि परिवार किसी भी समाज का केंद्र हिस्सा हैं और वे सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए एक समर्थन और स्थिर घर प्रदान करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *