अल्मोड़ा :दसवीं के छात्र को क्लास रूम में जिंदा जलाया, मौत

Almora: Tenth student burnt alive in class room, death

अल्मोड़ा के लमगड़ा ब्लॉक स्थित राजकीय इंटर कॉलेज सत्यों में सनसनीखेज मामला सामने आया है। दसवीं के छात्र को क्लास रूम में जिंदा जला दिया गया। छात्र पर नकाबपोश लोगों ने केरोसिन डालकर आग लगा दी। घटना मंगलवार सुबह की है। गंभीर रूप से झुलसा छात्र काफी देर तक क्लास रूम में ही पड़ा रहा।
मंगलवार की सुबह विद्यालय खुलने के बाद सभी छात्र प्रार्थना सभा के लिए मैदान में एकत्र हुए। इसी दौरान दसवीं के कक्ष में चीखने-चिल्लाने की आवाज के साथ ही आग की लपटें दिखाई दीं। शिक्षक और छात्र क्लास रूम की ओर भाग कर आए तो मंजर देख उनके होश उड़ गए।

दसवीं कक्षा का मॉनीटर राकेश (17) पुत्र गोपाल सिंह निवासी रालाकोट, लमगड़ा धू-धू कर कक्षा में जल रहा था। शिक्षकों ने उसके बदन पर दरी डालकर आग बुझाई। वह तब तक गंभीर रूप से झुलस चुका था। स्थानीय लोगों की मदद से उसे बेस चिकित्सालय लाया गया। पुलिस चौकी के एएसआइ बहादुर सिंह ने राकेश का बयान बेस चिकित्सालय स्थित लिया। हालांकि कॉलेज प्रबंधन समेत पूरा तंत्र मामले को खुदकशी के रूप में देख रहा है लेकिन मृत्यु पूर्व छात्र के बयान ने सनसनी फैला दी है।

यह भी पढ़े:रुड़की: बहन को छोड़ने आया था भाई ,गोली मारकर हत्या

राकेश के अनुसार वह ब्लैक बोर्ड व क्लास रूम में सफाई के लिए केरोसिन लेकर आया था। जब वह प्रार्थना सभा में जाने से पहले ब्लैक बोर्ड साफ करने जा रहा था तभी चार नकाबपोशों ने उस पर केरोसिन डालकर आग लगा दी और फरार हो गए।

बेस चिकित्सालय में छात्र की हालत बिगड़ती देख चिकित्सकों ने डॉ. सुशीला तिवारी अस्पताल, हल्द्वानी रेफर कर दिया, जहां उसकी मौत हो गई।
जैंती-भनौली SDM अवधेश कुमार ने कहा है कि घटनास्थल राजस्व क्षेत्र में है फिर भी पुलिस को सूचित कर दिया गया है। यह खुदकशी का प्रयास भी हो सकता है। मौत से पहले झुलसे छात्र ने जो बयान दिया है, उस पर गंभीरता से जांच की जायगी। घटना संदेहास्पद है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *