WhatsApp में हुआ बड़ा बदलाव,अब डिलीट नहीं कर पाएंगे भेजे गए मैसेज!

Big changes made in WhatsApp, now will not be able to delete sent messages!

दुनिया के सबसे पॉपुलर मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप के मौजूदा फीचर में एक बड़ा बदलाव हुआ है। व्हाट्सएप ने रेसिपिएंट लिमिट को अपडेट किया है। जिस असर व्हाट्सएप के ‘डिलीट फॉर एवरीवन’ फीचर पर भी पढ़ा है। जिसके बाद अब आप सेंड किया हुआ मेसेज डिलीट नहीं कर सकेंगे।

बता दे की व्हाट्सएप के ‘डिलीट फॉर एवरीवन’ फीचर का नया अपडेट आया है। इस फीचर में सेंडर भेजे गए मैसेज को 1 घंटे, 8 मिनट 16 सेकेंड के अंदर डिलीट कर सकता है, जिसके बाद सेंडर और रिसीवर दोनों के फोन से मैसेज डिलीट हो जाते हैं। लेकिन नए अपडेट में वॉट्सऐप ने Recipient limit में बदलाव किया है। जिससे अब आप अगर किसी को भेजा गया मैसेज डिलीट करते हैं, लेकिन यदि यूजर को आपके वापस लिए गए मैसेज की रिक्वेस्ट 13 घंटे 8 मीनट 16 सेकेंड तक नहीं मिलती है, तो ये मैसेज डिलीट नहीं होगा। हो सकता है कि आपने जिस यूजर से मैसेज डिलीट किया है, उसका फोन बंद हो। ऐसे में यूजर के पास से मैसेज डिलीट नहीं होगा। बताते चले की यह फीचर पिछले साल लॉन्च किया गया था और मेसेज डिलीट करने का स्क्रीन टाइम 7 मिनट था, लेकिन बाद में इस समय सीमा को बढ़ाकर 1 घंटा 18 मिनट और 16 सेकंड कर दिया गया।

यह भी पढ़े : भारत के WhatsApp यूजर्स के लिए बुरी खबर, मैसेज फॉरवर्ड करने पर लगाई पाबंदियां

व्हाट्सएप के फीचर्स पर नजर रखने वाले WABetaInfo ने इसकी जानकारी ट्वीट करके दी है। WABetaInfo के मुताबिक कंपनी ने ये कदम उन यूजर्स के कारण उठाया है, जो रिवोक मैसेज का गलत फायदा उठाकर हफ्तो, महीने और सालों पहले भेजे गए मैसेज को डिलीट करते हैं। हालांकि आप अभी भी 1 घंटे, 8 मिनट 16 सेकेंड पहले भेजे गए मैसेज को डिलीट कर सकते हैं। गौरतलब है की व्हाट्सएप लगातार अपने फीचर्स ने बदलाव कर रहा है। कंपनी चाहती है कि उसके यूजर्स को ज्यादा से ज्यादा सुविधा हो। हालंकि भारत में इस प्लेटफॉर्म के जरिए फेक न्यूज प्रसारित होने के कारण कंपनी पिछले कुछ समय से मुश्किलों का भी सामना कर रही है। फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए कंपनी ने कई कदम उठाए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *