देहरादून में ड़बल हेलमेट के लिए चला अभियान,कटे चालान, हेलमेट की दुकानों में दिखी भीड़

Driving campaign for dual helmets in Dehradun, chopped invoices,

प्रदेश में हाईकोर्ट के निर्देश के बाद दोपहिया वाहन पर पीछे बैठे व्यक्ति के लिए भी हेलमेट अनिवार्य कर दिया गया है। आज से पुलिस प्रशासन इसके लिए काफी मुस्तेद दिखी। अनेकों लोंगो के चालान काटे गए। इस दौरान हेलमेट की दूकानों में खासी भीड़ देखने को मिली।

दरअसल राज्य में बड़ रही सड़क दुर्घटनाअों को संज्ञान में लेते हुए हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार को एक अगस्त से दोपहिया वाहन पर पीछे व्यक्ति के लिए हेलमेट अनिवार्य करने के निर्देश दिए थे। निर्देशों के क्रम में पुलिस ने एक अगस्त के बजाय 10 अगस्त से इस पर अमल करने का निर्णय लिया था। 10 दिन तक पुलिस की ओर से शहरवासियों को हेलमेट के प्रति जागरूक किया गया। शुक्रवार को बिना हेलमेट वालों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया था। लेकिन शनिवार सुबह से ही पुलिस प्रशासन ड़बल हेलमेट के लिए चालान काटते नजर आए। भारी संख्या में चालान काटे गए। इस दौरान राजधानी में हेलमेट खरिदने वालों का जमावड़ा देखा गया।

चालान के यह है नियम, वाहन भी हो सकता है सीज
बता दे कि दोपहियां वाहन पर पीछे बैठने वाला व्यक्ति यदि बिना हेलमेट पाया जाता है तो उसके खिलाफ मोटर वाहन अधिनियम के तहत कार्रवाई कर उसका सौ रुपये का चालान किया जाएगा अौर मौके पर चालान की धनराशि अदा नहीं की जाती है तो वाहन चालक का डीएल कब्जे में लेकर चालानी कार्रवाई की जाएगी। डीएल न होने पर वाहन की आरसी जब्त कर कर ली जाएगी। यदि वाहन चालक कोई भी दस्तावेज नहीं दिखा पाता तो वाहन को सीज कर दिया जाएगा।


यह भी पढ़ेंः ड्राइविंग लाइसेंस और RC लेकर घूमने की नहीं है जरूरत,नहीं काटेगा चलान अब मोबाइल से होगा काम
पहले भी लागू हो चुका है यह आदेश
एसएसपी ने सभी लोगों से अपील की है कि कार्रवाई से बचने और अपनी सुरक्षा के लिए पीछे बैठने वाला व्यक्ति भी अवश्य रूप से हेलमेट पहने। पीछे बैठे व्यक्ति के लिए हेलमेट की बाध्यता के आदेश पहले भी हो चुके हैं, लेकिन पुलिस इसे सख्ती से लागू करवाने में सफल नहीं हो पाई। ऐसे में इस बार पुलिस इसे लागू कर पाएगी या नहीं यह वक्त ही बताएगा। क्योंकि वाहन चालक अभी तक भी खुद हेलमेट पहनने से गुरेज करते हैं। जबकि दोपहिया वाहन चालकों के लिए हेलमेट पहनना अनिवार्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *