पिथौरागढ़ में भारी हिमस्खलन ,सीमा को जोड़ने वाले मार्ग बंद

pithoragarh

उत्तराखंड में ठंड का प्रकोप जारी है। मौसम विभाग की चेतवानी के अनुसार पिथौरागढ़ में भारी हिमपात के बाद हिमस्खलन हुआ जिससे जिले को सीमा से जोड़ने वाले मार्ग बंद हो गए है। हिमस्खलन से मुनस्यारी और मिलम के बीच का मार्ग तीन स्थानों पर बंद हो गया है। जिससे भारत-तिब्बत सीमा बल (आइटीबीपी) की चौकियों तक रसद पहुंचाना मुश्किल हो सकता है। इसके अलावा बदरीनाथ, हेमकुंड साहिब और गोरसो बुग्याल की पहाड़ियों पर भी भारी हिमपात हुआ है।

प्रदेश में सर्द मौसम ने जिंदगी दुश्वार कर दी है। पहाड़ी इलाको में बर्फीली हवा तो मैदानी इलाकों में लोग कोहरे से परेशान हैं। सूबे में ज्यादातर इलाकों में न्यूनतम तापमान छह से आठ डिग्री के बीच है। देहरादून स्थित मौसम केंद्र के अनुसार पहाड़ों में पाला और मैदानों में कोहरे का क्रम जारी रहेगा। गंगोत्री, यमुनोत्री और केदारनाथ में छाई घटाओं से मध्य रात्रि तक बर्फबारी की संभावना बन रही है। दूसरी ओर हरिद्वार, रुड़की और ऊधमसिंह नगर में दिन भर सर्द हवाओं का डेरा रहा। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक उत्तराखंड को आने वाले दिनों में भी मौसम से राहत नहीं मिलने वाली है।
यह भी पढ़े :इंडोनेशिया में भूकंप , तबाही के बाद सुनामी की चेतावनी

दरअसल, बीते दिनों उच्च हिमालयी क्षेत्र में भारी हिमपात हुआ था। हिमपात के बाद धूप खिलने से ग्लेशियरों से हिमखंड टूटने लगे हैं। स्थानीय लोगों के अनुसार चीन सीमा को जोड़ने वाला मुनस्यारी-मिलम मार्ग पर तीन स्थानों पर विशाल हिमखंड आ गए है। इस समय उच्च हिमालय में केवल आइटीबीपी की चौकियों में जवान रहते हैं। मार्ग बंद होने के कारण चौकियों का पैदल सम्पर्क भंग हो चुका है। जिला मुख्यालय पिथौरागढ़ से मिलम का संपर्क कट गया है। यदि जल्द ही मार्ग न खुला तो रसद पहुंचाने में दिक्कतें आ सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *