राष्ट्रपति जुमा के इस्तीफे में जुड़े गुप्ता बंधु के देहरादून ठिकानो में आयकर की रेड

Income Tax Reddit in Dehradun Thikano of Gupta Bandhu

साउथ अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति जुमा के इस्तीफे में गुप्ता बंधू का नाम उजागर हुआ था तबसे इनकी तलाश की जा रही थी। इसलिए देहरादून में दबिश दी गई। उत्तराखडं सरकार ने इनको सुरक्षा दे रखी थी। जिसके बाद से यह लगातार सुर्खियों में बने हुए है। अब आयकर विभाग ने गुप्ता बंधु के ठिकानो पर छापा मारा है। और संपत्ति ज़ब्त कर ली गई है। जाँच में यह पता चला है की वह इस समय दुबई में है। और उनके घर से ब्लेंक चेक बरामद किए गए है।

गुप्ता बंधु के देहरादून के कर्जन रोड स्थित बंगले से आयकर की टीम ने सैकड़ों की संख्या में ब्लैंक चेक जब्त किए हैं। यह चेक देहरादून व सहारनपुर के आइसीआइसीआइ, बैंक ऑफ बड़ौदा और एचडीएफसी बैंक आदि के हैं। इन सभी बैंकों के संबंधित खातों को फ्रीज करने के आदेश भी जारी कर दिए हैं। जांच-पड़ताल में पाया गया है कि गुप्ता बंधु की कपनियों ने दक्षिण अफ्रीका में बैंक ऑफ बड़ौदा और बैंक ऑफ इंडिया की शाखा से 98 मिलियन रैंड (भारतीय मुद्रा में करीब 53.60 करोड़ रुपये) का लोन घोटाला किया है। प्रधान निदेशक अमरेंद्र कुमार ने दोनों बैंक के सीईओ को पत्र भेजकर लोन के सापेक्ष बंधक बनाई गई संपत्तियों का ब्योरा तलब किया है।

आयकर अधिकारियों के मुताबिक, गुप्ता बंधु की कंपनियों ने बैंक ऑफ बड़ौदा से 60 मिलियन रैंड व बैंक ऑफ इंडिया से 38.5 मिलियन रैंड का लोन लिया है। यह भी जानकारी मिली है कि उनकी कंपनियां लोन अदा नहीं कर रही हैं और जो संपत्ति बंधक बनाई है कि उसकी लागत भी कम है। ऐसे में बैंकों को घाटा उठाने की आशंका भी बढ़ गई है। आयकर के प्रधान निदेशक अमरेंद्र कुमार के मुताबिक , दोनों बैंकों के सीईओ से फोन पर भी बात की गई है और उनका दावा है कि यदि लोन की राशि नहीं लौटाई गई तो बंधक संपत्तियों को नीलाम कर दिया जाएगा।
यह भी पढ़े :जैकब जुमा ने दिया राष्ट्रपति पद से इस्तीफा , पद जाने के पीछे है भारत के UP का सम्बन्ध

आयकर की टीम ने गुप्ता बंधु की सम्पतियों को फ्रीज़ कर दिया है। इन संपत्तियों में देहरादून के आलीशान बंगले समेत हरिद्वार, सहारनपुर, पानीपत, फरीदाबाद, दिल्ली व नोएडा आदि की संपत्तियां भी शामिल हैं। संपत्तियों पर गुप्ता बंधु के मालिकाना हक को भी फ्रीज कर दिया गया है।आयकर टीम ने गुप्ता बंधु को बुलाने के लिए समन जारी करने की कार्रवाई शुरू की तो देहरादून के बंगले में मौजूद उनकी बहन अचला व बहनोई अतुल ने समन लेने से इंकार करने के बाद अधिकारियों की सख्ती करने पर मोबाइल पर कॉल कर टीम के निदेशक की बात करवाई। जिससे यह पता चला की वह इस समय दुबई में है। और जल्द ही भारत आने वाले है। आयकर अधिकारियों के अनुसार, यदि गुप्ता बंधु या उनके प्रतिनिधि समन लेने से इंकार करेंगे तो वह संपत्ति पर समन चस्पा कर आगे की कार्रवाई शुरू कर देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *