पद्मावत फिल्म: थम नहीं रहा विरोध, प्रदर्शनकारियों ने थियेटर में की तोड़फोड़

पद्मावत फिल्म: थम नहीं रहा विरोध, प्रदर्शनकारियों ने थियेटर में की तोड़फोड़

गांधीनगर: संजय लीला भंसाली की  फिल्म पद्मावत को लेकर पहले दिन से ही बवाल मचा हुआ है। वहीं  गुजरात में पद्मावत फिल्म के विरोध को लेकर पिछले 24 घंटे में कई सरकारी बसों पर हमले अथवा इन्हें जलाए जाने और एक सिनेमा घर पर हमले तथा कई रास्तों पर चक्का जाम के बीच गुजरात राज्य सड़क परिवहन निगम ने उत्तर गुजरात में लंबी दूरी की बस सेवाओं को आज कई मार्गों पर अगले आदेश तक बंद कर दिया है। वहीं पुलिस ने कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

ये भी पढ़ें-पद्मावत फिल्म पूरे देश में एक साथ रिलीज होगी, सुप्रीम कोर्ट का फैसला

पुलिस ने लोगों के खिलाफ किया मुकदमा दर्ज

पुलिस ने कल महेसाणा के लांघणज थाने के मेउ गांव के निकट तथा गांधीनगर के कलोल तालुका थाना क्षेत्र में चार बसों में तोड़फोड़ और आग लगाने के मामले तथा अहमदाबाद महानगरपालिका की एक बस को साणंद के माधवनगर के निकट जलाने के मामले में मुकदमे दर्ज किए हैं। उधर अहमदाबाद के नारोल क्षेत्र में राजहंस सिनेमा में कथित तौर पर फिल्म का ट्रेलर दिखाए जाने को लेकर इस में कल रात तोड़फोड़ को लेकर एक दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। निगम ने लोकप्रिय तौर पर एसटी बस कही जाने वाली अपनी बसों की सेवाएं गांधीनगर, महेसाणा, साबरकांठा, बनासकांठा,अरवल्ली और पाटन में कई डिपो की बसों के परिचालन पर रोक लगा दी है। इससे यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उधर करणी सेना, महाकाल सेना और उनके प्रदर्शन को समर्थन दे रहे विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्त्ताओं ने बनासकांठा के दांता, महेसाणा के उनावा और नवसारी में विभिन्न राजमार्गों को जाम कर और इन पर टायर जला कर आज भी विरोध प्रदर्शन किया। बता दें कि राजपूत संगठनों का आरोप है कि फिल्म पद्मावत में ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ की गई है, जबकि फिल्म से संबंधित लोगों ने इससे इनकार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *