उत्तराखंड की पेट्रोल पंप एसोसिएशन ने वापस ली हड़ताल, काम रहेगा सुचारू

PETROL PUMP ASSOCIATION STRIKE

पेट्रोल पंप संचालकों ने 13 अक्टूबर को हड़ताल का एलान किया था। लेकिन अब उन्होंने अपनी हड़ताल को वापस ले लिया है। जिसके चलते अब पेट्रोल-डीजल पंपों का काम रहेगा सुचारू ।

उत्तराखंड की पेट्रोल पंप एसोसिएशन ने यह फैसला यूनाइटेड पेट्रोलियम फ्रंट के आह्वान पर लिया था। लेकिन अब उन्होंने अपनी आगामी हड़ताल को वापस ले लिया है। केंद्र सरकार और तेल कंपनियों की ओर से सात सूत्रीय मांगों पर कार्रवार्इ न होने से आक्रोशित संगठन ने पहले तेरह अक्टूबर को हड़ताल करने का मन बनाया और उसके बाद भी मांगे नहीं माने जाने पर पंप संचालकोंं ने 27 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करने की बात कही थी।
एसोसिएशन मांग पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाए जाने कि मांग कर रही थी जिससे कि एक देश एक दाम की व्यवस्था लागू हो सके। एसोसिएशन मांगों को लेकर कई बार केंद्र व तेल कंपनियों से वार्ता कर चुकी है, लेकिन हर बार उन्हें सिर्फ आश्वासन देकर वापस भेज दिया जाता है। इसलिए एसोसिएशन ने पहले चरण में एक दिन की हड़ताल रखी है। लेकिन अब उन्होंने मन बदल दिया है।

यह भी पढ़े:देशव्यापी हड़ताल पर पेट्रोल कम्पनियो ने दी पेट्रोल पंप डीलरों को चेतावनी ,पढ़े पूरी खबर। ..

आपको बता दें कि एसोसिएशन मार्केटिंग डीसिप्लिन गाइडलाइन में संशोधन, मशीन व ट्रांसपोर्ट के दौरान होने वाले तेल के लॉस के अध्ययन करने की मांग कर रही थी। उन्होंने बताया था कि कंपनी स्वत: कहती है कि पंपों पर जो मशीनें उपलब्ध कराई जा रही हैं उनमें 25 एमएल तक तेल कम हो सकता है, जबकि पंपों को निर्देश दिए हैं कि वे शत-प्रतिशत तेल प्रदान करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *