साल के दूसरे सूर्य ग्रहण पर 40 साल बाद बन रहे ये खास संयोग ,जानिए क्या होगा असर

The special solar eclipse of the year is 40 years after the special combination,

साल 2018 का दूसरा सूर्य ग्रहण शुक्रवार 13 जुलाई यानि कल है। सूर्य ग्रहण 2018 से पहले और ग्रहण के दौरान कुछ बातों का विशेष ख्याल रखना होता है। भारतीय समयानुसार ग्रहण सुबह 7 बजकर 18 मिनट 23 सेकेंड से शुरू होगा। ग्रहण का माध्यम काल 8 बजकर 13 मिनट 05 सेकेंड पर होगा और मोक्ष 9 बजकर 43 मिनट 44 सेकेंड पर होगा। इस बार लगने वाले सूर्य ग्रहण पर 40 साल बाद खास संयोग बनने जा रहा है।
40 साल बाद बना संयोग
बता दे की नासा के अनुसार इससे पहले 1974 में 13 दिसंबर, शुक्रवार के दिन यह संयोग बना था और अगली बार ऐसा संयोग 2080 में 13 सितंबर को पड़ेगा, जब शुक्रवार के दिन ही आंशिक सूर्य ग्रहण होगा। दरअसल, यह सूर्यग्रहण 13 जुलाई को लगेगा और इस दिन शुक्रवार है। इस 13 तारीख और शुक्रवार के मेल को लोकप्रिय संस्कृति में ‘बुरी किस्मत’ का सूचक माना जाता है। इस दिन और तारीख को 44 साल पहले ग्रहण लगा था।ज्योतिष के अनुसार यह ग्रहण कर्क लग्न और मिथुन राशि में पड़ेगा। इसमें सूर्य और चंद्र दोनों मिथुन राशि में रहेंगे और लग्न में बुध और राहु रहेंगे। सूर्य ग्रहण कर्क, मिथुन और सिंह राशि वालों पर अशुभ प्रभाव डाल सकता है। इन्हें मानसिक कष्ट भी हो सकता है।

यह भी पढ़े :ब्लू मून के बाद साल का पहला सूर्यग्रहण , इन राशियों पर होगा ऐसा असर
इन स्थानों पर दिखेगा ग्रहण
आपको बता दे की यह ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा इसलिए ग्रहण के नियम के अनुसार भारत में रहने वाले लोगों पर ग्रहण के सूतक का विचार नहीं होगा। आपको बता दे कीग्रहण के समय से 12 घंटे पहले सूर्य ग्रहण का सूतक काल शुरू हो जाता है। चंद्रग्रहण का सूतक ग्रहण से 10 घंटे पहले आरंभ होता है।भारत के लोगों को ग्रहण के दौरान किए जाने वाले नियमों के पालन की जरूरत नहीं। इसलिए अफवाहों और बेकार की बातों पर ध्यान ना दें। साथ ही यह भी जान ले की वे भारतीय जो उन देशों में रहते हैं जहां ग्रहण दिखेगा, उन पर इस ग्रहण का प्रभाव होगा। यह सूर्यग्रहण आस्ट्रेलिया के सुदूर दक्षिणी भागों, तस्मानिया, न्यू जीलैंड के स्टीवर्ट आइलैंड, अंटार्कटिका के उत्तरी हिस्से, प्रशांत और हिंद महासागर में देखा जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *