उत्तराखंड पुलिस ने BJP विधायक के विरुद्ध दलित महिलाओं के साथ मारपीट का मुकदमा दर्ज

Uttarakhand police filed a case against Dalit women against BJP legislator

वीडियो में देखे महिलाओं के साथ हाथापाई और अभद्रता करते बीजेपी विधायक। उत्तराखंड पुलिस ने वीडियो वायरल के बाद किया BJP विधायक समेत तीन लोगों के विरुद्ध दलित महिलों के साथ मारपीट का मुकदमा दर्ज ।

उत्तराखंड में एक शर्मसार करने वाली वारदात प्रकाश में आयी है। प्रदेश के रुद्रपुर जिले में दलित महिलाओं के साथ मारपीट के मामले में भाजपा विधायक राजकुमार ठुकराल समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। वहीं बीजेपी ने उन्हें नोटिस देकर 10 दिन जवाब तलब किया है।

ऊधमसिंहनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर सदानंद दाते के अनुसार विधायक ठुकराल के खिलाफ रुद्रपुर इंदिरानगर गली नंबर चार निवासी रामकिशोर की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। रिपोर्ट में विधायक के अलावा पूर्व सभासद दिलीप अधिकारी और किरन सरदार को नामजद किया गया है। मामले की जांच सीओ यातायात बीएस चौहान को सौंपी गई है। उन्होंने बताया कि मामले में सीएम को भी जानकारी दे दी गई है।
जानकारी के अनुसार, शुक्रवार सुबह भाजपा विधायक के आवास पर एक प्रेमी जोड़े को लेकर पंचायत रखी गई थी जिसमें लड़का और लड़की दोनों पक्षों के लोग शामिल हुए। पंचायत के दौरान लड़की पक्ष ने लड़के पक्ष के साथ मारपीट शुरू कर दी और देखते ही देखते विधायक आवास पर हंगामा शुरू हो गया। अपने आवास पर हंगामा होते ही विधायक ठुकराल का पारा गरम हो गया और तैश में आकर उन्होंने लड़की पक्ष की महिलाओ से कथित तौर पर मारपीट कर दी। वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने अपने मोबाइल फोन से इस पूरे मामले का वीडियो बना लिया जो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।वीडियो में विधायक महिलाओं के साथ धक्कामुक्की करते दिखाई दे रहे हैं।
यह भी पढ़े :प्रदेश में धड़ल्ले से बिक रहा चावल के बाद अब प्लास्टिक का आटा ,मचा हड़कंप

प्रदेश भाजपा ने भी प्रकरण को बेहद गंभीरता से लिया है। प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के निर्देश पर प्रांतीय महामंत्री नरेश बंसल ने विधायक ठुकराल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। महामंत्री बंसल ने बताया कि महिलाओं के बीच हाथापाई और अभद्रता के कथित मामले के संबंध में सोशल मीडिया, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में आई खबरों का संज्ञान लेते हुए यह कदम उठाया गया। विधायक ठुकराल को नोटिस का जवाब देने के लिए 10 दिन का वक्त दिया गया है। वहीं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सदानंद दाते ने कहा कि पूरे मामले की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *